धोनी के बचाव में उतरे रैना और अश्विन

  • 23 जून 2015
इमेज कॉपीरइट AFP

बांग्लादेश में एक दिवसीय शृंखला हारने के बाद भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी आलोचनाओं के घेरे में आ गए हैं.

सिरीज़ हारने के बाद प्रेस कॉन्फ़्रेंस में उनके कप्तानी छोड़ने से संबंधित उनके बयान को भी हताशा में दिया गया बयान माना जा रहा है.

टीम में गुटबाज़ी को लेकर भी सवाल उठ रहे हैं. इन सबके बीच धोनी को अपने पुराने साथियों और मौजूदा टीम के दो सदस्यों आर अश्विन और सुरेश रैना का खुलकर समर्थन मिला है.

ग़ौरतलब है कि रैना और आर अश्विन आईपीएल में चेन्नई टीम के साथ हैं, जिसकी कप्तानी धोनी करते हैं.

आर अश्विन ने प्रेस कॉन्फ़्रेंस में धोनी का बचाव किया और कहा कि हार के लिए धोनी ज़िम्मेदार नहीं.

वहीं सुरेश रैना ने धोनी के साथ जीत के बाद जश्न मनाने वाली एक तस्वीर ट्वीट की है और लिखा है- रेसपेक्ट यानी सम्मान. ये तस्वीर 2013 की है, जब त्रिकोणीय शृंखला के एक मैच में धोनी ने श्रीलंका के ख़िलाफ़ आख़िरी ओवर में दो छक्के लगाकर भारत को मैच जिताया था.

रैना का सम्मान वाला ट्वीट

इमेज कॉपीरइट AFP

ज़ाहिर है सुरेश रैना अपने कप्तान के योगदान को ऐसे मौक़े पर याद कर रहे हैं, जब धोनी की आलोचना हो रही है.

वहीं आर अश्विन ने कहा, "धोनी भारतीय क्रिकेट के लेजेंड हैं. उन्होंने देश के लिए बहुत कुछ किया है. पूरी टीम के प्रदर्शन के लिए आप उन्हें दोषी नहीं ठहरा सकते. ये उचित नहीं. हम एक ग्रुप के रूप में नाकाम रहे हैं. हमें एक ग्रुप के रूप में उभरने की आवश्यकता है."

अश्विन ने कहा कि सेना में अगर आप अपने लीडर के साथ नहीं हो, तो आपके मारे जाने का पूरा चांस होता है.

रविवार को हुए दूसरे वनडे मैच में बांग्लादेश ने भारत को छह विकेट से हराकर तीन वनडे मैचों की शृंखला 2-0 से जीत ली है. तीसरा वनडे 24 जून को होना है.

दूसरे वनडे के बाद प्रेस कॉन्फ़्रेंस में धोनी ने कहा था, "अगर मेरे हटने से भारतीय टीम अच्छा करना शुरू कर देगी और भारतीय क्रिकेट में जो भी बुरी चीज़ हो रही है, वो मेरे कारण हो रही है, तो मैं निश्चित रूप से कप्तानी छोड़कर एक खिलाड़ी के रूप में खेलने को तैयार हैं."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार