फ़ीफ़ा ने ब्लेज़र पर आजीवन प्रतिबंध लगाया

  • 9 जुलाई 2015
चक ब्लेज़र इमेज कॉपीरइट Reuters

विश्व फ़ुटबॉल को नियंत्रित करने वाली संस्था फ़ीफ़ा ने कार्यकारी समिति के पूर्व सदस्य चक ब्लेज़र को फ़ुटबॉल संबंधी गतिविधियों के लिए आजीवन प्रतिबंधित कर दिया है.

70 वर्षीय ब्लेज़र ने रिश्वत, हवाला और कर चोरी के आरोप स्वीकार करने के बाद अमरीका में जाँच एजेंसियों के लिए मुखबिरी की थी.

अमरीकी सुरक्षा एजेंसी एफ़बीआई ने मई में फ़ीफ़ा के कई अधिकारियों को धोखाधड़ी, घूस लेने और हवाला के आरोपों में गिरफ़्तार किया गया था.

रिश्वतकांड

इमेज कॉपीरइट AFP

फ़ीफ़ा ने एक बयान जारी कर कहा है, “ब्लेज़र कई गलत गतिविधियों में शामिल रहे हैं.”

अमरीका में कुल मिलाकर 14 लोगों पर मुकदमा चलाया जा रहा है. इन लोगों पर पिछले 24 वर्षों के दौरान 15 करोड़ डॉलर से अधिक की रिश्वत लेने के आरोप हैं.

ब्लेज़र 1990 से 2011 तक फ़ीफ़ा के उत्तर-मध्य अमरीकी और कैरेबियाई क्षेत्र के महासचिव रहे हैं. इसके अलावा वह 1997 से 2013 तक फ़ीफ़ा की कार्यकारी समिति के सदस्य भी रहे हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार