रोमांचक मैच में ज़िम्बाब्वे चार रन से हारा

फ़ाइल फोटो इमेज कॉपीरइट AP
Image caption चिग्युंबुरा ने शतकीय पारी खेली, लेकिन टीम को जीत नहीं दिला सके.

भारत ने हरारे में खेले गए रोमांचक वनडे मुक़ाबले में ज़िम्बाब्वे को चार रन से हरा दिया है.

ज़िम्बाब्वे को जीत के लिए 256 रनों की दरकार थी, लेकिन वह सात विकेट पर 251 रन ही बना सकी और इस तरह से मैच भारत की झोली में आ गया.

इससे पहले, भारत ने निर्धारित 50 ओवरों में छह विकेट खोकर 255 रन बनाए थे.

ज़िम्बाब्वे की शुरुआत अच्छी नहीं रही और उसके चार विकेट 94 के योग पर ही गिर गए थे. इसके बाद सिकंदर रज़ा और मुतुंबामी के रूप में मेजबान टीम को दो और झटके लगे. स्कोर था छह विकेट पर 160 रन.

लेकिन इसके बाद इल्टन चिग्युंबुरा और ए क्रीमर ने भारतीय गेंदबाज़ों का डटकर मुक़ाबला किया और सातवें विकेट के लिए 86 रन जोड़े.

क्रीमर 27 रन बनाकर धवल कुलकर्णी की गेंद पर बिन्नी के हाथों लपके गए.

क्रीज पर चिग्युंबुरा डटे रहे और उन्होंने 49वें ओवर में अपना शतक पूरा किया. उन्होंने शतक पूरा करने के लिए 96 गेंदें खेली और इस दौरान आठ चौके और एक छक्का जड़ा.

चिग्युंबुरा 104 रन बनाकर नॉट आउट रहे.

भारतीय पारी

इमेज कॉपीरइट AP

इससे पहले, टॉस जीतकर पहले बल्लेबाज़ी करते हुए भारत ने अंबाटी रायुडू (124 रन) और स्टुअर्ट बिन्नी (77 रन) की ज़िम्मेदाराना पारियों की बदौलत निर्धारित 50 ओवरों में छह विकेट पर 255 रन बनाए.

भारतीय पारी को संभाला रायुडू और बिन्नी ने. एक समय भारतीय टीम सिर्फ़ 87 रनों पर पाँच विकेट गँवा चुकी थी.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

लेकिन इसके बाद रायुडू और बिन्नी ने ज़िम्बाब्वे के गेंदबाज़ों का साहस और जिम्मेदारी से सामना किया और दोनों ने छठे विकेट के लिए 160 रनों की रिकॉर्ड साझेदारी की.

इससे पहले भारत की ओर से छठे विकेट के लिए सबसे बड़ी साझेदारी का रिकॉर्ड महेंद्र सिंह धोनी और युवराज के नाम दर्ज था.

रायुडू ने 133 गेंदों पर 12 चौकों और एक छक्के की मदद से 124 रन बनाए और नॉट आउट रहे.

बिन्नी का विकेट 49वें ओवर में 247 के योग पर गिरा. बिन्नी ने 76 गेंदों पर 6 चौकों और दो छक्कों की मदद से 77 रनों की पारी खेली.

ख़राब शुरुआत

इससे पहले, भारत की शुरुआत अच्छी नहीं रही थी. पारी की शुरुआत कप्तान आजिंक्य रहाणे और मुरली विजय ने की, लेकिन मुरली सिर्फ एक रन बनाकर ही आउट हो गए.

इसके बाद मनोज तिवारी (2 रन), रॉबिन उथप्पा (शून्य) और केदार जाधव (पाँच रन) भी जल्दी-जल्दी आउट होकर पवेलियन लौट गए.

रहाणे भी 34 रन से आगे नहीं बढ़ सके.

ज़िम्बॉब्वे चिभाभा, तिरिपानो ने दो-दो विकेट लिए, जबकि विटोरी ने मुरली का विजय चटकाया.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार