पुरुष टेनिस का भविष्य ज्यादा बेहतर: सानिया

मार्टिना हिंगिस, सानिया मिर्ज़ा इमेज कॉपीरइट Reuters

मार्टिना हिंगिस के साथ मिलकर विंबलडन महिला डबल्स 2015 जीतने वाली भारतीय खिलाड़ी सानिया मिर्ज़ा ने बीबीसी से साझा किया अपनी सफल जोड़ी का राज़.

हैदराबाद में बीबीसी से ख़ास बातचीत में सानिया मिर्ज़ा ने कहा, ''मार्टिना लेफ्ट कोर्ट से और मैं राइट कोर्ट से खेलती हूं. यही हमारी ताक़त बनता है. कोर्ट के बाहर भी हमारी ख़ूब जमती है.''

'मेरा सपना पूरा हुआ'

इमेज कॉपीरइट AP

विंबलडन में महिला डबल्स ख़िताब जीतने पर सानिया ने कहा, ''हर टेनिस खिलाड़ी का यही सपना होता है. हर खिलाड़ी नंबर वन बनना चाहता है. मैं बहुत ख़ुश हूं मेरा सपना पूरा हुआ.''

भारत के लिएंडर पेस और स्विट्ज़रलैंड की मार्टिना हिंगिस की जोड़ी ने विंबलडन में मिक्स्ड डबल्स का खिताब जीता.

इमेज कॉपीरइट EPA

कोर्ट पर पेस के साथ अपनी जोड़ी के बारे में पूछे जाने पर सानिया कहती हैं, ''मैं और लिएंडर बहुत अलग तरीके से खेलते हैं. महिला डबल्स और मिक्स्ड डबल्स खेलने के तरीके भी अलग-अलग हैं.''

कोर्ट पर महेश भूपति के साथ जोड़ी के बारे में पूछे जाने पर सानिया ने कहा, ''महेश के साथ मेरी दोस्ती कोर्ट के बाहर भी है. कोर्ट के अंदर और कोर्ट के बाहर महेश मेरे बेहतरीन दोस्तों में से एक हैं.''

भारतीय टेनिस का भविष्य

इमेज कॉपीरइट PTI

लिएंडर पेस और सानिया मिर्ज़ा के बाद भारतीय टेनिस का क्या भविष्य होगा.

सानिया कहती हैं, ''वूमेंस टेनिस की तुलना में मेंस टेनिस का भविष्य ज्यादा बेहतर लगता है. सोमदेव और रोहन बोपन्ना जैसे खिलाड़ी हैं. महिला टेनिस में प्रार्थना थोंबरे, अंकिता रैना और करमन कौर थंडी जैसे नाम हैं. सही मार्गदर्शन और प्रशिक्षण से ये खिलाड़ी बेहतर प्रदर्शन कर सकते हैं.''

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार