एक साल गेंदबाज़ी नहीं कर पाएंगे हफ़ीज़

  • 17 जुलाई 2015
पाकिस्तानी क्रिकेटर मोहम्मद हफ़ीज़ इमेज कॉपीरइट AFP

पाकिस्तानी क्रिकेटर मोहम्मद हफ़ीज़ के गेंदबाज़ी करने पर पाबंदी लगा दी गई है. उन पर दूसरी बार पाबंदी लगाई गई है. उनका गेंदबाज़ी एक्शन अवैध पाया गया था.

34 साल के हफ़ीज़ पर नवंबर 2014 में भी पाबंदी लगी थी. वो एक साल तक गेंदबाज़ी नहीं कर सकेंगे.

हफ़ीज़ के गेंदबाज़ी एक्शन के बारे में मैच अधिकारियों ने पिछले महीने शिकायत की थी. तब श्रीलंका पर पाकिस्तान ने टेस्ट जीत हासिल की थी.

स्पिन गेंदबाज़ हफ़ीज़ किसी भी प्रक्रियात्मक पहलू को लेकर अपील कर सकते हैं.

पाकिस्तान के लिए झटका

हफ़ीज़ पर पिछली बार पाकिस्तान की न्यूज़ीलैंड पर जीत के बाद पाबंदी लगी थी लेकिन इसके बाद उनके एक्शन को लेकर किए गए काम के बाद उनका दोबारा मूल्यांकन हुआ और अप्रैल में फिर गेंदबाज़ी करने की इजाज़त दे दी गई.

क्योंकि दो साल के अंदर ये दूसरी बार है जब उनका एक्शन अवैध पाया गया इसलिए उन्हें अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में एक साल का निलंबन झेलना होगा.

बीते शनिवार को हफ़ीज़ पाकिस्तान के लिए बेशकीमती साबित हुए थे. उन्होंने 41 रन देकर चार विकेट लिए थे और 103 रन भी बनाए थे. इस प्रदर्शन की वजह से पाकिस्तान श्रीलंका के ख़िलाफ़ पांच मैचों की सिरीज़ में 1-0 बढ़त बना पाया.

हफ़ीज़ ने 44 टेस्ट में 52 विकेट लिए हैं और उनका औसत 33.90 है. उन्होंने वनडे में 129 विकेट लिए हैं और उनका औसत 34.87 रहा है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार