मुक्केबाज़ विजेंदर सिंह को अदालत का नोटिस

मुक्केबाज़ विजेंदर सिंह इमेज कॉपीरइट AFP

पंजाब और हरियाणा हाई कोर्ट ने मुक्केबाज़ विजेंदर सिंह को नोटिस जारी किया है.

यह नोटिस विजेंदर सिंह के पेशेवर मुक्केबाज़ी लीग 'क्वींसबरी प्रमोसंस' में शामिल होने के मुद्दे पर जारी किया गया है. विजेंदर सिंह को 20 अगस्त तक इसका जवाब देना है.

जस्टिस एसके मित्तल और जस्टिस एचएस सिद्धू के खंडपीठ ने मीडिया में छपी ख़बरों का संज्ञान लेते हुए नोटिस जारी किया है.

विजेंदर सिंह ने हाल में ऐलान किया है कि वो प्रोफेशनल मुक्केबाज़ी में उतरेंगे.

इसका मतलब ये होगा कि वो अब भारत का प्रतिनिधित्व नहीं कर पाएंगे.

खेल नीति के ख़िलाफ़?

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

इसके पहले अदालत ने नोटिस जारी कर हरियाणा राज्य से पूछा था कि क्या मुक्केबाज़ का क़दम सरकार की खेल नीतियों के ख़िलाफ़ है.

हरियाणा पुलिस ने हाल ही में विजेंदर सिंह को चेतावनी दी थी कि उन्होंने पेशेवर मुक्केबाज़ बनने और पेशेवर लीग में शामिल होने से पहले राज्य सरकार की अनुमित नहीं ली तो उनके ख़िलाफ़ कार्रवाई की जाएगी.

चेतावनी

इमेज कॉपीरइट AP

विजेंदर के 2008 के बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीतने के बाद उन्हें डीएसपी का पद दिया गया था.

जानकारों का कहना है कि वे फ़िलहाल प्रोबेशन पर हैं और उनका प्रशिक्षण अभी पूरा भी नहीं हुआ है. सरकारी कर्मचारी होने की वज़ह से ब़गैर पूर्व अनुमति के वे दूसरी नौकरी नहीं कर सकते, न ही कहीं और से वेतन ले सकते हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार