फ़ीफ़ा प्रमुख ब्लैटर ने कहा- मैं भ्रष्ट नहीं

  • 24 अगस्त 2015
सेप ब्लैटर इमेज कॉपीरइट AP

फुटबॉल की अंतरराष्ट्रीय संस्था फ़ीफ़ा के अध्यक्ष सेप ब्लैटर ने कहा है कि वे भ्रष्ट नहीं है.

उन्होंने कहा कि फ़ीफ़ा का अध्यक्ष पद छोड़ते हुए वे खेल को विशेष रूप से बेहतर हाल में छोड़ कर जा रहे हैं.

बीबीसी को दिए एक इंटरव्यू में सेप ब्लैटर ने कहा फ़ीफ़ा संस्था के रूप में भ्रष्ट नहीं है, हां कुछ लोग भ्रष्ट हो सकते हैं लेकिन इसके लिए उन्हें ज़िम्मेदार नहीं ठहराया जा सकता है.

कार्यकारी कमेटी के सदस्यों के व्यवहार को लेकर आंखें मूंद लेने का सवाल वो टाल गए लेकिन इस बारे में उन्होंने कहा कि उन्हें क्षेत्रीय परिसंघों के चुने हुए प्रतिनिधियों के साथ काम करना था.

भ्रष्टाचार के मामलों में फंसा फ़ीफ़ा और उसके अधिकारी

इमेज कॉपीरइट Reuters

सेप ब्लैटर 1998 से पांच बार फ़ीफ़ा के अध्यक्ष रह चुके हैं. हाल ही में हुए चुनावों में ब्लैटर को पांचवी बार अध्यक्ष चुना गया था.

अमरीका में भ्रष्टाचार के मामले की जांच में फ़ीफ़ा के सदस्यों की गिरफ्तारी के बाद जून महीने में सेप ब्लैटर ने अध्यक्ष पद छोड़ने की घोषणा की थी.

स्विस अधिकारी भी फ़ीफ़ा से जुड़े आपराधिक मामलों की जांच कर रहे हैं.

सेप ब्लैटर ने पारंपरिक रूप से लातिन अमरीकी और यूरोपीय देशों खेले जाने वाले फुटबॉल को दुनिया में विस्तार दिलाने का श्रेय भी लिया.

उन्होंने महिलाओं फुटबॉल शुरू करने का श्रेय खुद को दिया.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार