स्टोक्स को 'हैंड बॉल' आउट देने पर छिड़ी बहस

बेन स्टोक्स इमेज कॉपीरइट AFP

लॉर्ड्स में शनिवार को ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ दूसरे वनडे मुक़ाबले में इंग्लैंड के बल्लेबाज़ बेन स्टोक्स का 'हैंडल द बॉल' पर आउट होना सोशल मीडिया पर चर्चा का विषय बना हुआ है.

ऑस्ट्रेलिया ने इस मैच में इंग्लैंड को 64 रन से हराया और पाँच मैंचों की सिरीज़ में 2-0 की बढ़त हासिल कर ली.

वाकया इंग्लैंड की पारी के 26वें ओवर का है. क्रीज पर थे स्टोक्स और गेंदबाज़ी कर रहे थे मिचेल स्टार्क.

'हैंडल द बॉल'

इमेज कॉपीरइट AFP

ओवर की चौथी गेंद पर स्टोक्स ने शॉर्ट खेला और इस दौरान क्रीज से कुछ बाहर निकल आए. स्टार्क ने स्टंप का निशाना साधते हुए गेंद स्टोक्स के छोर की तरफ फेंकी.

थ्रो से बचने की कोशिश में स्टोक्स ने बाएं दस्ताने से गेंद को धकेल दिया. इसी बीच ऑस्ट्रेलियाई विकेटकीपर मैथ्यू वेड ने अपील शुरू कर दी.

मैदानी अंपायर कुमार धर्मसेना और टिम रॉबिसंन ने तीसरे अंपायर जोएल विल्सन ने रीप्ले देखने के बाद उन्हें 'क्षेत्ररक्षण में बाधा पहुँचाने' का दोषी करार देते हुए आउट दे दिया.

बेन स्टोक्स इस तरह आउट होने वाले पहले ग़ैर एशियाई बल्लेबाज़ हैं.

स्टोक्स के आउट होने के बाद इस पर बयानों का सिलसिला चल निकला. अंग्रेज़ कप्तान इयान मॉर्गन ने कहा, "मुझे नहीं लगता बेन ने ऐसा जानबूझकर किया. लेकिन थर्ड अंपायर को ऐसा लगा."

ट्विटरबाज़ी

इमेज कॉपीरइट AFP

कमेंटेटर हर्षा भोगले ने ट्वीट किया, "जितना अधिक आप स्टोक्स के आउट होने का वीडियो देखोगे, उतना अधिक वो आउट दिखाई देंगे. इरादतन जाँचने का कोई तरीका नहीं है. आपको खिलाड़ी के एक्शन और मूवमेंट से तय करना होता है."

पूर्व क्रिकेटर इयान बॉथम और माइकल होल्डिंग ने कहा, "मिचेल स्टार्क को अपील नहीं करनी चाहिए थी. ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्मिथ को स्टोक्स को वापस बुला लेना चाहिए था."

न्यूज़ीलैंड के पूर्व क्रिकेटर स्कॉट स्टाइरिश ने कहा, "स्टोक्स के आउट होने पर इस तरह का विवाद क्यों? वे साफ़ आउट हैं!"

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व क्रिकेटर डीन जोंस ने ट्वीट किया, "मुझे लगता है कि अंपायर का फ़ैसला सही था."

जोनाथन एग्नू ने ट्वीट किया, "मैं जानना चाहूँगा कि तीसरे अंपायर कैसे 100 फ़ीसदी आश्वस्त थे कि स्टोक्स ने जानबूझकर ऐसा किया."

इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन ने ट्वीट किया, "रिप्ले को पूरी स्पीड से दिखाया जाना चाहिए था. स्टोक्स के पास उस थ्रो से बचने का टाइम ही नहीं था."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार