भारत में एशिया कप नहीं खेलेगी पाकिस्तान टीम

पाकिस्तान नेत्रहीन क्रिकेट

पाकिस्तान अगले साल जनवरी में भारत में होने वाले नेत्रहीनों के एशिया कप में शामिल नहीं होगा.

पाकिस्तान नेत्रहीन क्रिकेट काउंसिल के चेयरमैन और विश्व नेत्रहीन क्रिकेट काउंसिल के प्रेज़ीडेंट सैयद सुल्तान शाह ने यह ऐलान किया.

बीबीसी उर्दू के अहमद रज़ा से बातचीत में उन्होंने इस फ़ैसले की वजहें भी बताईं.

नेत्रहीन एशिया कप कोच्चि में 17 से 24 जनवरी के बीच होना था. इसमें भारत, पाकिस्तान, श्रीलंका, बांग्लादेश और नेपाल की टीमें हिस्सा लेने वाली थीं.

पाकिस्तान ने इस टूर्नामेंट में शामिल होने की पुष्टि भी कर दी थी लेकिन बुधवार को इस फ़ैसले को वापस ले लिया गया.

इमेज कॉपीरइट AFP

सैयद सुल्तान शाह के अनुसार, "इस समय भारत में जिस तरह हिंदुत्व का जुनूं चल रहा है, पाकिस्तान का विरोध हो रहा है.पीसीबी अध्यक्ष से बैठक नहीं होने दी गई, अलीम डार को वापस भेज दिया गया, अकरम और शोएब भी वापस आ रहे हैं. यह भी कहा जा रहा है कि कोई पाकिस्तानी नागरिक हमारी धरती पर न आए."

उन्होंने कहा, "ऐसे हालात में, ऐसी पागलपन की स्थितियों में मुझे नहीं लगता कि पाकिस्तान के नेत्रहीन खिलाड़ियों को वहां जाना चाहिए. हमें अपने बच्चों को ख़तरे में नहीं डालना चाहिए."

"अगर उन्हें हवाई अड्डे से वापस भेजा गया या मैदान में खेलने नहीं दिया गया तो यह हमारे लिए शर्मिंदगी की वजह बनेगा."

शाह कहते हैं कि उनके भारतीय नेत्रहीन क्रिकेट काउंसिल से बहुत अच्छे संबंध हैं. वे कहते हैं, "भारतीय टीम 2014 में पाकिस्तान खेलने आई थी. यहां बहुत अच्छे माहौल में मैच खेले गए थे, उनका स्वागत किया गया था."

"इसलिए हमारे लिए यह मुश्किल फ़ैसला था. उनकी सरकार भी इस पर कोई कदम नहीं उठा रही, न ही उन लोगों को मना कर रही है. सरकार ने चुप्पी ओढ़ी हुई है तो हमने फ़ैसला किया कि पाकिस्तान इस टूर्नामेंट में शामिल नहीं होगा."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार