श्रीनिवासन आईसीसी चेयरमैन के पद से हटाए गए

इमेज कॉपीरइट AFP

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने एन श्रीनिवासन को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) के अध्यक्ष पद से हटा दिया है.

मुंबई में चल रही बीसीसीआई की वार्षिक बैठक में श्रीनिवासन को आईसीसी से वापस बुलाने का फ़ैसला लिया गया.

बीसीसीआई महासचिव अनुराग ठाकुर ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि आईसीसी में उनकी जगह अब वर्तमान बीसीसीआई प्रमुख शंशाक मनोहर लेंगे जो वर्ष 2016 तक उनका बचा हुआ कार्यकाल पूरा करेंगे.

श्रीनिवासन आईपीएल की टीम चेन्नई सुपर किंग्स के मालिक हैं.

इस साल की शुरुआत में सुप्रीम कोर्ट ने स्पॉट फ़िक्सिंग मामले की सुनवाई करते हुए फ़ैसला किया था कि वह हितों के टकराव के कारण बीसीसीआई का अगला चुनाव नहीं लड़ सकते.

इमेज कॉपीरइट AFP

श्रीनिवासन के दामाद गुरुनाथ मयप्पन को भी अदालत ने स्पॉट फ़िक्सिंग का ज़िम्मेदार माना है.

शशांक मनोहर ने कहा कि हितों के टकराव के मामलों को सुलझाने के लिए दिल्ली के पूर्व मुख्य न्यायाधीश एपी शाह बीसीसीआई के ऑम्बड्समैन होंगे.

उन्होंने दावा किया कि सभी जानकारियां पूरी पारदर्शिता के साथ बीसीसीआई की वेबसाइट पर दी जाएंगी और पूरी वार्षिक रिपोर्ट पहले ही वेबसाइट पर डाल दी गई है.

उन्होंने कहा कि आईपीएल से जुड़े विवादास्पद मामलों की जांच बोर्ड भी अपने स्तर पर करेगा.

पाकिस्तान के साथ क्रिकेट मैच के एक सवाल पर शशांक मनोहर ने कहा कि इसके लिए सरकार से अनुमति लेनी पड़ेगी और उसी के हिसाब से बोर्ड का फ़ैसला भी होगा.

उन्होंने कहा कि बीसीसीआई के बोर्ड के संचालन में पेशेवर लोगों को तरजीह दी जाएगी.

रवि शास्त्री को भी आईपीएल की गवर्निंग काउंसिल से हटाया गया है.

हितों के टकराव की वजह से रोजर बिन्नी को भी बीसीसीआई की चयन समिति से हटाया गया.

उनके बेटे स्टुअर्ट बिन्नी के बारे में टिप्पणी करते हुए शशांक मनोहर ने कहा कि उनके करियर में कोई दख़ल नहीं दिया जाएगा.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)