डीडीसीए को राहत, दिल्ली में टेस्ट का रास्ता साफ़

  • 18 नवंबर 2015
विराट कोहली इमेज कॉपीरइट EPA

दिल्ली उच्च न्यायालय ने चौथे भारत-दक्षिण अफ़्रीका टेस्ट के आयोजन का रास्ता साफ़ करते हुए दिल्ली नगर निगम को आदेश दिया है कि वह अस्थाई तौर पर डीडीसी मैदान के इस्तेमाल की इजाज़त दे.

समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार उच्च न्यायालय ने दिल्ली एंड डिस्ट्रिक्ट क्रिकेट एसोसिएशन (डीडीसीए) के मैदान के बारे में ये आदेश सुनाया है और मैच के मामलों पर नज़र रखने के लिए जस्टिस मुकुल मुद्गल को नियुक्त किया है.

मंगलवार को डीडीसीए ने राज्य से सभी अनुमतियां हासिल करने की बीसीसीआई की समयसीमा में एक दिन की मोहलत मांगी थी.

इमेज कॉपीरइट DDCA

डीडीसीए ने मंगलवार को उच्च न्यायालय में याचिका दायर की थी कि दक्षिण दिल्ली नगर निगम (एसडीएमसी) उसे फ़िरोज़शाह कोटला मैदान के अस्थाई इस्तेमाल की इजाज़त दे. उसने ऐसे निर्देश की प्रार्थना इसलिए की थी ताकि वह अंतर्राष्ट्रीय मैच का आयोजन कर सके.

यह मैच 3 से 7 दिसंबर तक होना है लेकिन डीडीसीए ने एक से 10 दिसंबर तक की अनुमति मांगी है.

मंगलवार को ही डीडीसीए की मुश्किलें बढ़ाते हुए दिल्ली सरकार के गठित एक जांच दल ने बीसीसीआई से कथित अनिमितताओं के लिए डीडीसीए को निलंबित करने की सिफ़ारिश की.

जांच दल ने कहा है कि पेशेवरों की एक अंतरिम समिति बनाकर उसे डीडसीए की जगह नियुक्त कर दिया जाए.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार