'बैटिंग नहीं दी तो फ़ील्डिंग क्यों करवाई..'

युवराज सिंह इमेज कॉपीरइट Getty

मेलबर्न में भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच दूसरा टी-20 मुक़ाबला हो रहा था और इधर ट्विटर पर युवराज सिंह के पिता योगराज ट्रेंड कर रहे थे.

दरअसल, लंबे समय बाद भारतीय क्रिकेट टीम में वापसी करने वाले युवराज सिंह को ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ दूसरे टी-20 में भी बल्लेबाज़ी का मौक़ा नहीं मिल सका.

भारत की ओर से रोहित शर्मा और शिखर धवन ने पारी की शुरुआत की. पहला विकेट गिरने पर विराट कोहली और दूसरा विकेट गिरने पर कप्तान महेंद्र सिंह धोनी बल्लेबाज़ी के लिए आए.

जब धोनी बल्लेबाज़ी के लिए आए तब भारतीय पारी का 16वां ओवर चल रहा था और जब धोनी आउट हुए तब सिर्फ़ दो गेंदें शेष रह गईं थी. उसके बाद रैना को उतारा गया.

ऐसे में एक बार फिर युवराज सिंह को पिच पर उतरने का मौक़ा नहीं मिल सका.

उधर, मुक़ाबला चल रहा था और इधर, ट्विटर पर मज़ाकियां टिप्पणियां जारी थी.

योगराज सिंह पहले भी धोनी पर अपने बेटे युवराज को मौक़ा नहीं देने का आरोप लगा चुके हैं, हालाँकि युवराज ने इन आरोपों से इनकार किया था.

इमेज कॉपीरइट AFP GETTY

पढ़िए कुछ चुनिंदा ट्वीट्स...

आरओएफ़़एल गांधी अकाउंट से ट्वीट किया गया, "बैटिंग नहीं देनी थी तो मेरे बेटे को एक टैक्सी ही दिलवा दे."

इसी अकाउंट से एक और ट्वीट किया गया, "योगराज सिंह युवराज को बल्लेबाज़ी नहीं करने देने के लिए धोनी के ख़िलाफ़ एफ़आईआर करने गए हैं."

इंजीनर्ड ने ट्वीट किया, "युवराज सिर्फ़ इसलिए ऑस्ट्रेलिया गए हैं ताक़ि उनके पिता योगराज ट्विटर पर ट्रेंड कर सकें."

नीरज वर्मा ने ट्वीट किया, "जब मेरे बेटे को बैटिंग नहीं दी तो फ़ील्डिंग क्यों करवाई?"

आमिर ने लिखा, "मेरे बेटे के पास अपना बैट और बॉल है फिर भी धोनी उसे बैटिंग नहीं देता."

वहीं कुछ लोग ट्विटर पर इस लतीफ़ेबाज़ी से नाराज़ भी दिखे.

एक यूजर ने ट्वीट किया, "युवराज के पिता योगराज का मज़ाक मत बनाओ. कम से कम इस पिता ने ऐसा बेटा तो पैदा किया है जिस पर देश को गर्व है."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार