रहाणे या मनीष: किस पर धोनी का भरोसा?

  • 5 फरवरी 2016
इमेज कॉपीरइट AP

संदीप पाटिल की अगुवाई में चयनसमिति जब वर्ल्ड टी-20 और एशिया कप के लिए भारतीय टीम को चुनने के लिए बैठेगी तो उनके सामने सबसे बड़ा सवाल यही होगा कि टीम में सातवां बल्लेबाज़ कौन होगा?

इस जगह के लिए अजिंक्य रहाणे और मनीष पांडे के बीच ज़ोरदार मुक़ाबला है. रहाणे के चोटिल होने पर पांडे को ऑस्ट्रेलिया में वनडे खेलने का मौक़ा मिला और पांचवें वनडे में उन्होंने शानदार शतक ठोक दिया.

इमेज कॉपीरइट AFP

मनीष पांडे को श्रीलंका के ख़िलाफ़ होने वाले तीन टी-20 मैचों के लिए भी टीम में शामिल किया जा चुका है. कोहली को आराम दिए जाने के चलते यहां तो पांडे आसानी से टीम में आ गए थे, लेकिन वर्ल्ड टी-20 की टीम में आना चुनौतीपूर्ण होगा.

क्योंकि पांडे के सामने अजिंक्य रहाणे हैं. रहाणे मौजूदा टीम इंडिया के उन खिलाड़ियों में शामिल हैं, जो तीनों फॉरमेट में लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं. ज़ाहिर है, ऐसे में टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की भूमिका बेहद अहम होने वाली.

इमेज कॉपीरइट AP

धोनी विनिंग कांबिनेशन में किसी तरह का बदलाव नहीं चाहेंगे, ऐसे में बहुत संभव है कि वर्ल्ड टी-20 की टीम में अजिंक्य रहाणे और मनीष पांडे दोनों को जगह मिल जाए. ऐसा होने की सूरत में टीम इंडिया में विकेटकीपर बल्लेबाज़ धोनी सहित आठ बल्लेबाज़ हो जाएंगे.

बल्लेबाज़ी में रोहित शर्मा, शिखर धवन, विराट कोहली, सुरेश रैना और युवराज सिंह की जगह पक्की है.

टीम में बाक़ी सात खिलाड़ियों में रविंद्र जडेजा की जगह भी तय मानी जा रही है. वे धोनी की योजनाओं में फिट बैठते रहे हैं और भारतीय परिस्थितियों में उपयोगी ऑलराउंडर साबित हो सकते हैं.

इमेज कॉपीरइट AP

युवा ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या का दावा भी बेहद मज़बूत दिख रहा है. यूटिलिटी प्लेयर के तौर पर हार्दिक पर कप्तान अपना भरोसा जता सकते हैं.

इमेज कॉपीरइट AFP

इसके बाद चयनकर्ताओं के सामने चुनौती पांच गेंदबाज़ों को चुनने की होगी. तेज गेंदबाज़ों की बात करें तो टीम में जसप्रीत बुमराह की जगह पक्की दिख रही है. ख़ासकर अंतिम ओवरों में यार्कर फेंकने की क़ाबिलियत से वे टीम इंडिया के लिए मुफ़ीद साबित हो सकते हैं.

दूसरे गेंदबाज़ के तौर पर कप्तान धोनी अपना भरोसा आशीष नेहरा पर दिखा सकते हैं. तीसरे गेंदबाज़ के तौर पर भुवनेश्वर कुमार और मोहित शर्मा के बीच भी होड़ देखने को मिलेगी. हालांकि चयनकर्ता उससे पहले मोहम्मद शमी की फिटनेस रिपोर्ट पर भी नज़र डालेंगे.

इमेज कॉपीरइट AP

वहीं स्पिन गेंदबाज़ी में आर अश्विन की जगह पक्की है. दूसरे स्पिनर के तौर हरभजन सिंह के अनुभव को देखते हुए चयनकर्ता उन पर भरोसा दिखा सकते हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार