श्रीलंका से सिरीज़ जीतने उतरेगी टीम इंडिया

  • 14 फरवरी 2016
टीम इंडिया क्रिेकेट इमेज कॉपीरइट GETTY IMAGES

भारत और श्रीलंका के बीच रविवार को विशाखापत्तनम में सिरीज़ का तीसरा और आख़िरी टी-20 मुक़ाबला खेला जाएगा.

दोनो टीमें एक-एक जीत के साथ बराबरी पर है.

श्रीलंका ने पुणे में खेले गए पहले मैच में घास वाली तेज़ पिच पर भारत को केवल 101 रनों पर ढेर कर मैच पांच विकेट से अपने नाम कर लिया था.

इसके बाद रांची में अपने ही घर में खेलते हुए महेंद्र सिंह धोनी, टीम को 69 रन से बड़ी जीत दिलाने में कामयाब रहे.

दूसरे मुक़ाबले में रांची में विकेट एकदम सपाट था.

टॉस हारकर पहले बल्लेबाज़ी की दावत पाकर भारत ने निर्धारित 20 ओवर में 6 विकेट खोकर 196 रनों जैसा बड़ा स्कोर बनाया.

सलामी बल्लेबाज़ शिखर धवन का बल्ला रांची में जमकर गरजा.

उन्होंने केवल 25 गेंदों पर सात चौके और दो छक्के जमाकर पिछले मैच के हीरो तेज़ गेंदबाज़ कसुन रचिथ और थिसारा परेरा की लय बिगाड़ दी.

कसुन रचिथ ने अपना पहला ही एकदिवसीय मैच खेलते हुए पुणे में पहले ही ओवर में दो विकेट लेकर स्टेड़ियम में सन्नाटा फैला दिया था.

दूसरे छोर पर रोहित शर्मा ने भी जमकर खेलते हुए 36 गेंदों पर 43 रन ठोक दिए.

इमेज कॉपीरइट AP

शिखर धवन और रोहित शर्मा ने पहले विकेट के लिए 7 ओवर में ही 75 रनों की साझेदारी कर बड़े स्कोर की नींव रख दी.

सुरेश रैना ने 19 गेंदों पर 30 और हार्दिक पांड्या ने 12 गेंदों पर एक चौके और दो छक्कों की मदद से 27 रन बनाए.

हार्दिक पांड्या के सिर पर वैसे पिछले मैच में टीम से बाहर होने की तलवार लटक रही थी लेकिन महेंद्र सिंह धोनी ने उनका बचाव किया.

उन्होंने बल्लेबाज़ी में भी हार्दिक पांड्या को ख़ुद अपने और युवराज सिंह से पहले बल्लेबाज़ी करने भेजा. पांड्या ने भी निराश नहीं किया.

वैसे तो भारतीय बल्लेबाज़ी दमदार है. इसके बावजूद थिसारा परेरा ने जिस तरह पिछले मैच में हैट्रिक जमाई उससे मध्यम क्रम कुछ भरोसा नहीं जगाता.

हार्दिक पांड्या, सुरेश रैना और युवराज सिंह हैट्रिक में परेरा का शिकार बने.

वह तो भारत जीत गया वर्ना इसे लेकर टीम का जो हाल होता उसे समझा जा सकता है

इमेज कॉपीरइट AFP

भारत के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने मैच समाप्त होने के बाद कई सवालों पर ज़ोरदार चुटकी ली.

जब उनसे पूछा गया कि क्या अब नीली जर्सी में आप दोबारा अपने घर रांची में खेलेंगे.

धोनी ने कहा "क्या मैं अनफिट हूं, अभी भी तेज़ भागता हूं."

वे बोले "मेरे लिए आप हमेशा विशेष कारण ढूंढ़ते है. यह छक्के नहीं मारता इसे रिटायरमेंट ले लेनी चाहिए."

इमेज कॉपीरइट Reuters

उन्होंने अपने हैलिकॉप्टर शॉट का बचाव करते हुए कहा कि बाउंसर पर यह शॉट नहीं खेला जा सकता, हां अगर वह स्टूल लेकर मैदान में जाए तो शायद लग सकता है.

महेंद्र सिंह धोनी ने यह भी कहा कि वह कोशिश करेंगे कि युवराज सिंह को भी बल्लेबाज़ी का अवसर मिले.

साथ ही उन्होंने सफाई भी दी कि शिखर धवन, रोहित शर्मा और उनके बाद विराट कोहली और सुरेश रैना के देश और विदेश में किए गए शानदार प्रदर्शन के बाद युवराज को ऊपर खिलाना मुश्किल है.

धोनी ने यह भी कहा कि फिलहाल बल्लेबाज़ों के नंबर की अपेक्षा टीम का उद्देश्य सिरीज़ जीतना है.

दूसरी तरफ श्रीलंका चाहेगी कि अनुभवी बल्लेबाज़ तिलकरत्ने दिलशान का बल्ला चले और उसके बाद कप्तान दिनेश चांदीमल और कपुगेदारा तथा सिरीवर्दने कुछ कमाल करें.

जो भी हो दमदार मुक़ाबले की उम्मीद करनी चाहिए.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार