वनडे सिरीज़ की हार का बदला ले पाएगा भारत?

  • 6 मार्च 2016
टीम इंडिया इमेज कॉपीरइट AFP

बांग्लादेश में खेले जा रहे एशिया कप टी-20 क्रिकेट टूर्नामेंट का फ़ाइनल रविवार को मीरपुर में खेला जाएगा.

इस फ़ाइनल में जीत के रथ पर सवार भारतीय टीम मेज़बान बांग्लादेश का सामना करेगी.

इससे पहले भारत ने मेज़बान बांग्लादेश, पाकिस्तान, श्रीलंका और उसके बाद संयुक्त अरब अमीरात को मात दी थी.

दूसरी तरफ बांग्लादेश भारत से हारने के बाद संयुक्त अरब अमीरात, श्रीलंका और पाकिस्तान को हराकर फ़ाइनल में पहुंचा है.

बांग्लादेश ने अपने अंतिम लीग मैच में दर्शकों से खचाखच भरे स्टेडियम में हैरतअंगेज़ अंदाज़ में पाकिस्तान को मात दी.

उस मैच में बांग्लादेश ने जीत के लिए 130 रनों का लक्ष्य पांच गेंद शेष रहते पांच विकेट खोकर हासिल किया.

इमेज कॉपीरइट Getty

वैसे तो बांग्लादेश के सलामी बल्लेबाज़ सौम्य सरकार ने पाकिस्तान के ख़िलाफ़ 48 गेंदों पर 48 रन बनाए, लेकिन उसकी जीत के असली नायक महमूदुल्लाह और मशर्फे मुर्तज़ा रहे.

महमूदुल्लाह ने केवल 15 गेंदों पर नाबाद 22 और मुर्तज़ा ने 7 गेंदों पर नाबाद 12 रन बनाकर पाकिस्तान से मैच तो छीना ही, साथ ही फ़ाइनल में भी अपने कदम रखे.

उधर भारतीय टीम ने एशिया कप में अभी तक बेहद दमदार खेल दिखाया है.

भारतीय गेंदबाज़ों ने दरअसल अपनी विरोधी टीमों को जमने ही नहीं दिया.

पिछले मैच में भारत ने अमीरात को 20 ओवर में 9 विकेट पर केवल 81 रन ही बनाने दिए.

वहीं पाकिस्तान को तो भारत ने 17.3 ओवर में ही 83 रनों पर समेट दिया.

एशिया कप में अभी तक भारतीय बल्लेबाज़ों को कोई बड़ी चुनौती नहीं मिली है.

इमेज कॉपीरइट PTI

पहले मैच में बांग्लादेश के ख़िलाफ रोहित शर्मा ने 83 रन बनाए तो पाकिस्तान के ख़िलाफ़ विराट कोहली ने 49 रन बनाए.

श्रीलंका के ख़िलाफ़ भी विराट ने नाबाद 56 रन बनाए तो अमीरात के ख़िलाफ़ रोहित शर्मा ने 39 रन बनाकर भारत को जीत दिला दी.

केवल एक बड़ी पारी ने मैच का रुख़ बदल दिया. इसके बावजूद शिखर धवन की फॉर्म थोड़ी चिंता पैदा करती है.

उनके बल्ले से तीन पारियों में केवल 19 रन निकले है. इसमें अमीरात के ख़िलाफ़ 20 गेंदों पर बनाए गए नाबाद 16 रन भी शामिल हैं. उस पारी में उन्हें जीवनदान भी मिला.

अगर भारत की सलामी जोड़ी रोहित शर्मा और शिखर धवन अच्छी शुरुआत करती है तो फिर विराट कोहली, युवराज, सुरेश रैना, कप्तान धोनी स्थिति को संभाल सकते हैं.

इमेज कॉपीरइट AFP

गेंदबाज़ी में आशीष नेहरा, रविंद्र जडेजा और आर अश्विन की वापसी तय है.

उन्हें अमीरात के ख़िलाफ़ पिछले मैच में आराम दिया गया था.

दूसरी तरफ बांग्लादेश को तेज़ गेंदबाज़ मुस्तफिज़ुर रहमान के चोटिल होकर बाहर होने से बड़ा झटका लग चुका है.

इसके बावजूद अल-अमीन-हुसैन और तस्कीन अहमद भी किसी से कम नहीं हैं.

आलराउंडर साकिब-अल-हसन भी अपनी घूमती गेंदों से किसी भी बल्लेबाज़ को परेशान कर सकते हैं.

बल्लेबाज़ी में भी वह दमदार है. सौम्य सरकार, इमरूल कैयस, सब्बीर रहमान और मुस्तफ़िक़ुर रहमान भरोसेमंद बल्लेबाज़ हैं.

इमेज कॉपीरइट AFP

भारत ने अभी तक पिछले 10 में से नौ टी-20 मैच जीते हैं.

दूसरी तरफ बांग्लादेश ने पिछले साल अपनी ही ज़मीन पर भारत को एकदिवसीय सिरीज़ में 2-1 से हराया था.

भारत एशिया कप में लीग मैच में बांग्लादेश को हरा चुका है.

अगर भारत एशिया कप जीता तो वह बुलंद हौसले के साथ अपनी ही ज़मीन पर होने वाले टी-20 विश्व कप में उतर सकता है.

बांग्लादेश पहली बार एशिया कप के फ़ाइनल में पहुंचा है.

दूसरी तरफ भारत इसे साल 1984, 1988, 1990-91, 1995 और साल 2010 में यानी पांच बार अपने नाम कर चुका है.

इससे पहले एशिया कप एक दिवसीय प्रारूप में खेला जाता था, जबकि इस बार टी-20 प्रारूप में खेला जा रहा है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक औ ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार