'कोई टीम करिश्मा दोहरा नहीं पाई है'

इमेज कॉपीरइट Reuters

भारत में टी20 क्रिकेट का सबसे बड़ा मुक़ाबला शुरू चुका है. यह छठा वर्ल्ड टी20 टूर्नामेंट है.

भारत में पहली बार इसका आयोजन हो रहा है.

इस बार ख़िताब पर मेज़बान टीम इंडिया का दावा काफ़ी मज़बूत दिख रहा है. भारतीय टीम अपने पिछले 11 टी-20 मुक़ाबले में 10 मैच जीती है. एशिया कप जीतने के बाद टीम इंडिया का मनोबल काफ़ी बढ़ा हुआ है.

हालांकि एक हक़ीकत यह भी है कि कोई भी टीम अब तक इस ख़िताब को दो बार नहीं जीत सकी है. ऐसे में एक नज़र अब तक हुए टूर्नामेंट और उसके चैंपियनों पर.

भारत बना चैंपियन: दक्षिण अफ्रीका के जोहानिसबर्ग के वांडर्रस मैदान में भारत और पाकिस्तान के बीच वर्ल्ड टी20 का पहला फ़ाइनल मुक़ाबला खेला गया. इस ख़िताबी मुक़ाबले में भारत ने 20 ओवर में पांच विकेट पर 157 रन बनाए. गौतम गंभीर ने सबसे ज़्यादा 75 रन बनाए.

इसके जवाब में पाकिस्तानी टीम 19.3 ओवर में 152 रन पर सिमट गई.

पाकिस्तान को आख़िरी ओवर में जीत के लिए 13 रन बनाने थे और आख़िरी जोड़ी विकेट पर थी.

भारतीय कप्तान धोनी ने गेंद जोगिंदर शर्मा को थमाई. पाकिस्तानी कप्तान मिस्बाह उल हक़ ने दूसरी गेंद पर छक्का लगा दिया. इसके बाद चार गेंद पर टीम को छह रन बनाने थे. लेकिन जोगिंदर शर्मा की गेंद को उठाकर पर मारने की कोशिश में मिस्बाह उल हक चूक गए और श्रीसंत ने शानदार कैच लपक कर टीम को वर्ल्ड चैंपियन का ख़िताब दिला दिया.

इमेज कॉपीरइट AFP Getti Images

इस ख़िताबी मुक़ाबले में 4 ओवर में 16 रन देकर तीन विकेट लेने वाले इरफ़ान पठान मैन ऑफ़ द मैच चुने गए थे.

पाकिस्तान से नहीं हुई चूक: पाकिस्तानी टीम पहली बार तो भारत के सामने चूक गई थी. लेकिन इंग्लैंड में 2009 में हुए दूसरे वर्ल्ड टी20 में टीम से कोई चूक नहीं हुई.

फ़ाइनल में पाकिस्तान ने श्रीलंका को आठ विकेट से हराकर ख़िताब जीत लिया. श्रीलंका ने पहले बल्लेबाज़ी करते हुए छह विकेट पर 138 रन बनाए. तब के कप्तान कुमार संगाकार ने नाबाद 64 रन बनाए.

इमेज कॉपीरइट AFP

इसके जवाब में पाकिस्तान ने 18.4 ओवर में दो विकेट पर 139 रन बनाकर मैच जीत लिया. शाहिद आफ़रिदी ने नाबाद 54 रन बनाकर टीम को जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई. उन्हें मैन ऑफ़ द मैच चुना गया.

इंग्लैंड बना चैंपियन: तीसरे वर्ल्ड टी20 में दुनिया को नया चैंपियन मिला. वेस्टइंडीज़ के बारबेडॉस में फ़ाइनल मुक़ाबला ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच हुआ था.

इमेज कॉपीरइट AFP

ऑस्ट्रेलिया ने 20 ओवर में छह विकेट पर 147 रन बनाए. ऑस्ट्रेलिया की ओर से डेविड हसी ने 59 रन बनाए. इसके जवाब में इंग्लैंड ने 17 ओवर में तीन विकेट पर 148 रन बना कर मैच जीत लिया. इंग्लैंड की ओर से क्रेग किसविटर ने सबसे ज़्यादा 67 रन बनाए. उनकी इस पारी के चलते ही उन्हें मैन ऑफ़ द मैच चुना गया.

वेस्टइंडीज़ का दम: कोलंबो में चौथे वर्ल्ड टी20 के ख़िताबी मुक़ाबले में वेस्टइंडीज़ ने पहले बल्लेबाज़ी करते हुए 20 ओवरों में छह विकेट पर 137 रन बनाए.

मर्लोन सैमुअल्स ने सबसे ज़्यादा 78 रन बनाए. श्रीलंका की ओर से अजंता मेंडिस ने 12 रन देकर चार विकेट चटकाए.

इमेज कॉपीरइट Getty

इसके जवाब में श्रीलंका की टीम 18.4 ओवर में 101 रन पर सिमट गई. सुनील नरेन ने 3.4 ओवर में नौ रन देकर तीन विकेट चटकाए. सैमुअल्स को मैन ऑफ़ द मैच चुना गया.

लंका से हारा भारत: पांचवें वर्ल्ड टी20 का फ़ाइनल भारत और श्रीलंका के बीच ढाका में खेला गया.

भारत ने पहले बल्लेबाज़ी करते हुए 20 ओवरों में चार विकेट पर 130 रन बनाए.

विराट कोहली ने 77 रन की पारी खेली. लेकिन उनके अलावा कोई और बल्लेबाज़ विकेट पर नहीं टिक पाया.

इमेज कॉपीरइट Getty

इसके जवाब में कुमार संगाकारा के नाबाद 55 रन की बदौलत श्रीलंका ने 17.5 ओवर में 4 विकेट पर 134 रन बनाकर ख़िताब जीत लिया.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार