वर्ल्ड टी-20: 10 दिलचस्प रिकॉर्ड्स

  • 19 मार्च 2016
इमेज कॉपीरइट AFP

वर्ल्ड कप टी-20 में दनादन क्रिकेट जारी है. 2007 में ये टूर्नामेंट पहली बार आयोजित हुआ था और महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में भारतीय टीम चैंपियन बनने में कामयाब हुई थी.

इस टूर्नामेंट से जुड़े दस दिलचस्प तथ्यों पर डालते हैं, एक नज़र.

  1. एमएस धोनी वर्ल्ड टी-20 इतिहास के इकलौते ऐसे खिलाड़ी हैं, जो अब तक अपनी टीम के सभी मैचों में कप्तान रहे हैं. भारत ने अब तक इस टूर्नामेंट में 28 मैच खेले हैं और हर मैच के कप्तान धोनी रहे हैं.
  2. इस टूर्नामेंट में सबसे तेज़ अर्धशतक बनाने का रिकॉर्ड युवराज सिंह के नाम है. उन्होंने 2007 में इंग्लैंड के ख़िलाफ़ महज 12 गेंद पर 50 रन ठोक दिए थे. इसी मैच में युवराज ने स्टुअर्ट ब्रॉड के एक ओवर की छह गेंदों पर छह छक्के लगाने का कारनामा दिखाया था.
    इमेज कॉपीरइट AP
  3. ब्रैंडन मैक्कलम के नाम वर्ल्ड टी-20 के दौरान सबसे बड़ी पारी खेलने का रिकॉर्ड है. उन्होंने 2012 में बांग्लादेश के ख़िलाफ़ मुक़ाबले में महज 58 गेंदों पर 123 रन ठोक दिए थे. हालांकि इस बार मैक्कलम टूर्नामेंट में नहीं खेल रहे हैं.
  4. वर्ल्ड टी-20 के किसी एक सीज़न में सबसे ज़्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड विराट कोहली के नाम है. 2013-14 के दौरान विराट कोहली ने 6 मैचों में 106 से ज्यादा की औसत से 319 रन बनाए थे. ये किसी एक टूर्नामेंट में किसी एक बल्लेबाज़ का सबसे बड़ा स्कोर है.
    इमेज कॉपीरइट AFP
  5. वर्ल्ड टी-20 क्रिकेट में किसी टीम का सबसे बड़ा स्कोर श्रीलंका के नाम है. श्रीलंका ने केन्या के ख़िलाफ़ 2007 में 20 ओवरों में छह विकेट पर 260 रन बनाए थे.
  6. वेस्टइंडीज़ के तूफानी बल्लेबाज़ क्रिस गेल के नाम टी-20 क्रिकेट के तमाम रिकॉर्ड्स हैं. वर्ल्ड टी-20 में वे नौ बार 50 से ज्यादा का स्कोर बना चुके हैं.
  7. वर्ल्ड टी-20 में छक्कों के कई रिकॉर्ड क्रिस गेल के नाम हैं. उन्होंने बुधवार को इंग्लैंड के ख़िलाफ़ एक पारी में 11 छक्के लगाए थे. 2012 में एक टूर्नामेंट में सबसे ज़्यादा 12 छक्के का रिकॉर्ड उन्होंने बनाया. अब तक सभी वर्ल्ड टी-20 में गेल 60 छक्के लगा चुके हैं.
    इमेज कॉपीरइट AFP
  8. इतने छक्के लगाने के बावजूद क्रिस गेल के नाम इस टूर्नामेंट में सबसे ज़्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड नहीं है. ये रिकॉर्ड श्रीलंकाई बल्लेबाज़ महेला जयवर्धने के नाम है. वे इकलौते ऐसे बल्लेबाज़ हैं जिन्होंने वर्ल्ड टी-20 में एक हज़ार से ज्यादा रन बनाए हैं. जयवर्धने के नाम 31 मैचों में 1,016 रन बनाने का रिकॉर्ड है.
  9. पाकिस्तानी कप्तान शाहिद अफ़रीदी के नाम एक दुर्भाग्यपूर्ण रिकॉर्ड है. वे वर्ल्ड टी-20 में सबसे ज्यादा पांच बार शून्य पर आउट होने का कारनामा बना चुके हैं. श्रीलंका के तिलकरत्ने दिलशान भी वर्ल्ड टी-20 में पांच बार शून्य पर आउट हो चुके हैं.
    इमेज कॉपीरइट AP
  10. श्रीलंका के लसिथ मलिंगा वर्ल्ड टी-20 के सबसे कामयाब गेंदबाज़ हैं. उनकी झोली में 31 मैचों में कुल 38 विकेट हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार