विराट कोहली समेत भारत की जीत की 4 वजहें

एम एस धोनी, विराट कोहली इमेज कॉपीरइट AFP

मोहाली में ऑस्ट्रेलिया जैसी मज़बूत टीम को हराकर भारत सेमीफ़ाइनल में पहुंच गया है. भारत के खेल में ऐसी क्या बात रही कि वो ऑस्ट्रेलिया पर भारी पड़ा.

वरिष्ठ खेल पत्रकार प्रदीप मैगज़ीन ने बीबीसी के आदेश कुमार गुप्त से बात करते हुए चार अहम कारण गिनाए.

1. विराट कोहली: दोनों टीमों के बीच सबसे बड़ा फ़र्क साबित हुए विराट कोहली. जिस तरह से उन्होंने परिस्थिति को समझा, विकेट को भांपा और फिर बैटिंग की, उसके कारण उन्हें क्रिकेट इतिहास के बड़े खिलाड़ियों में शुमार किया जाएगा.

इमेज कॉपीरइट AP

2. रनिंग बिटवीन द विकेट: युवराज सिंह बैटिंग करते हुए चोटिल हो गए. उनसे भागा नहीं जा रहा था.

ऐसे में उनका आउट होना भारतीय टीम के लिए वरदान साबित हुआ. उनके आउट होते ही कप्तान धोनी क्रीज़ पर आए और उन्होंने ज़बरदस्त रनिंग बिटवीन द विकेट की.

कोहली के साथ मिलकर उन्होंने कई एक रन को दो रन में बदला जो निर्णायक साबित हुए.

इमेज कॉपीरइट AP

3. गेंदबाज़ी: पहले चार ओवरों में ऑस्ट्रेलिया ने 53 रन ठोक दिए. लेकिन उसके बाद भारतीय गेंदबाज़ों ने जिस तरह वापसी की वो काबिले-तारीफ़ है.

नेहरा के अलावा पार्ट-टाइम गेंदबाज़ युवराज सिंह और रवींद्र जडेजा ने बेहतरीन बॉलिंग की और कुल 6 ओवरों में सिर्फ़ 39 रन दिए जिसकी वजह से बेहतरीन स्टार्ट मिलने के बाद भी ऑस्ट्रेलिया 160 रन ही बना पाया.

इमेज कॉपीरइट AFP

4. कैप्टन कूल धोनी: एक बार फिर एमएस धोनी ने साबित कर दिया कि दबाव के वक़्त टीम को कैसे लीड किया जाता है.

जहां ऑस्ट्रेलिया के कप्तान स्टीव स्मिथ कोहली के ज़बरदस्त काउंटर अटैक से बिखरी ऑस्ट्रेलियाई टीम को संभाल नहीं पाए, वहीं दूसरी ओर धोनी ने बुरी तरह पिट रहे अपने गेंदबाज़ों का जिस तरह से हौसला बढ़ाया और दबाव में शांत रहे, उसे भारतीय गेंदबाज़ों की मैच में वापसी का अहम कारण माना जाएगा.

धोनी हार से डरते नहीं, बल्कि उस वक़्त भी उनका दिमाग़ चलता रहता है. ये सोचते रहना कि कैसे उस स्थिति को जीत में तब्दील किया जाए, धोनी को ख़ास बनाता है.

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार