ध्यानचंद
प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

चलो रियो: क्यों जादूगर कहलाते थे ध्यानचंद?

  • 27 मई 2016

साल 1928 के एम्सटर्डम ओलंपिक में भारत ने हॉकी में पहली बार स्वर्ण पदक जीता था.

उस ओलंपिक में ही दुनिया ने हॉकी मैदान पर ध्यानचंद के कमाल को देखा था.

बीबीसी की ख़ास श्रंखला 'चलो रियो' में रेहान फ़ज़ल बता रहे हैं कि दुनिया ध्यानचंद को क्यों कहती थी हॉकी का जादूगर?