भारतीय टीम का नया 'वज़नदार' खिलाड़ी

  • 4 जून 2016
इमेज कॉपीरइट BCCI

महाराष्ट्र के क्रिकेटर शार्दूल ठाकुर को मोटापे की वजह से कभी घरेलू टीम से बाहर कर दिया गया था.

अब ये गेंदबाज़ भारतीय टेस्ट टीम के साथ जुलाई में वेस्टइंडीज़ दौरे पर जा रहे हैं.

24 साल के शार्दूल को इस साल उनकी आईपीएल टीम किंग्स इलेवन पंजाब ने सीज़न के बीच से बाहर कर दिया था.

इमेज कॉपीरइट Shardul Thakur

अबतक आईपीएल में वो सिर्फ एक ही मुक़ाबला खेल पाए थे, जो उन्होंने पिछले साल पंजाब टीम की ही तरफ से खेला. वेस्टइंडीज़ दौरे के लिए उनका चयन रणजी के बीते सत्र में किए प्रदर्शन के आधार पर हुआ है.

रणजी 2015-16 में मुंबई के लिए खेलते हुए उन्होंने 41 विकेट झटके और 41वीं बार इस टीम को ख़िताब दिलाने में अहम भूमिका निभाई.

वो कहते हैं, "चयनकर्ता संदीप पाटिल ने मुझे फ़ोन पर इसकी जानकारी दी. काफी देर तक मुझे विश्वास नहीं हुआ. अब में दौरे पर जाने की तैयारी में लग गया हूँ."

2012 में शार्दूल ने प्रथम श्रेणी क्रिकेट में क़दम रखा, लेकिन यहां उनके खेल से ज़्यादा उनके वज़न की चर्चा हुई.

इमेज कॉपीरइट Shardul Thakur

इसके बाद 84 किलो वज़न वाले शार्दुल ने अपने वज़न पर क़ाबू पाया और 11 किलो कम कर टीम में वापसी की.

वो बताते हैं, "उस दौरान अगर में ये सोचता कि मुझे ड्रॉप किया गया है और मैं क्रिकेट कभी खेल पाऊंगा या नहीं, तो मैं कभी वापसी नहीं कर पाता."

उनके मुताबिक़, "मैंने अपनी फ़िटनेस पर काफी मेहनत की और अगले ही साल रणजी टीम में वापसी कर ली. तब से लेकर अब तक में लगातार बेहतर प्रदर्शन कर रहा हूँ."

कैरेबियाई दौरे पर शार्दूल, भुवनेश्वर कुमार, उमेश यादव और ईशांत शर्मा जैसे अनुभवी गेंदबाज़ों के साथ ड्रेसिंग रूम साझा करेंगे.

युवा कप्तान विराट कोहली के अंडर खेलने को लेकर वे बेहद उत्साहित हैं.

इमेज कॉपीरइट Shardul Thakur

वो कहते हैं, "मैंने उनके साथ भारत के लिए एक मैच खेला है. तब उनसे थोड़ी बातें हुई थीं. वेस्टइंडीज़ जाकर मैं उनसे और बातें और क्रिकेट की बारीकियां सीखना चाहता हूँ."

भारत का कैरेबियाई दौरा जुलाई अगस्त में होना है.

यहां भारत चार टेस्ट मैचों की सीरीज़ खेलेगा. इस दौरे का कार्यक्रम फ़िलहाल तय नहीं किया गया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉयड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए