धोनी बनाएंगे वनडे में कप्तानी का रिकार्ड

महेंद्र सिंह धोनी इमेज कॉपीरइट AFP

सिरीज़ पहले ही अपने नाम कर चुकी भारतीय क्रिकेट टीम बुधवार को ज़िम्बाब्वे के ख़िलाफ़ हरारे में तीसरा और आख़िरी एकदिवसीय अंतराष्ट्रीय क्रिकेट मैच खेलने उतरेगी.

भारत के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी चाहेंगे कि तीसरा मैच भी आसानी से अपने नाम किया जाए और लगातार तीसरी बार ज़िम्बाब्वे को उसी की ज़मीन पर एकतरफ़ा मात दी जाए.

इससे पहले 2013 में विराट कोहली की कप्तानी में भारत ने ज़िम्बाब्वे को 5-0 से हराया था.

इमेज कॉपीरइट AFP

पिछले साल अजिंक्य रहाणे की कप्तानी में भारत ने ज़िम्बाब्वे को 3-0 से मात दी थी.

अब यह देखना दिलचस्प होगा कि दोनों मुक़ाबलों में टॉस जीतकर पहले क्षेत्ररक्षण करने का फ़ैसला करने वाले भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी क्या तीसरे मैच में टॉस जीतकर अपने बल्लेबाज़ों को भी कुछ कर दिखाने का अवसर देते हैं या नहीं.

वैसे कुछ रिकार्ड ऐसे है जो बुधवार को होने वाले इस मैच में बन सकते हैं.

हरारे में तीसरा मैच खेलते ही महेंद्र सिंह धोनी एकदिवसीय अंतराष्ट्रीय क्रिकेट में सबसे अधिक मैचों में कप्तानी करने वाले खिलाड़ी बन जाएंगे.

एक कप्तान के तौर पर यह उनका 194वां मैच होगा.

उनसे पहले श्रीलंका के पूर्व कप्तान अर्जुन रणतुंगा ने 193 मैचों में कप्तानी की थी.

अगर भारत हरारे में तीसरा मैच भी जीत जाता है तो यह महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में जीता गया 107वां मैच होगा.

ऐसी उपलब्धि हासिल करने वाले वह ऑस्ट्रेलिया के एलन बॉर्डर के साथ दूसरे कप्तान होंगे. बॉर्डर ने 178 मैचों में कप्तानी करते हुए 107 मैच जीते थे.

क्या महेंद्र सिंह धोनी एकदिवसीय क्रिकेट में अपने 9000 रन पूरे कर सकेंगे.

अगर शुरूआती दोनों मैचों में भारत ने पहले बल्लेबाज़ी की होती तो शायद वह यह आंकड़ा छू लेते.

धोनी अभी तक 277 एकदिवसीय मैच खेलकर नौ शतक और 60 अर्धशतक की मदद से 8918 रन बना चुके हैं. यानि 9000 रन पूरे करने के लिए उन्हें अभी भी 82 रनों की ज़रूरत है.

वैसे धोनी ने अपना पिछला अर्धशतक 11 मैच पहले दक्षिण अफ्रीका के ख़िलाफ पिछले साल इंदौर में लगाया था. तब उन्होंने नाबाद 92 रन बनाए थे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार