पहले मैच में महज़ 47 सेकेंड खेल पाए थे मेसी

  • 27 जून 2016
इमेज कॉपीरइट Reuters

लियोनेल मेसी को दुनिया का सबसे बेहतरीन फ़ुटबॉलर माना जाता है. वे दुनिया के इकलौते ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्होंने पांच बार फ़ीफ़ा बैलन डि ओर का ख़िताब जीता है.

तीन बार यूरोपीय गोल्डन शू का ख़िताब जीतने वाले वे इकलौते फ़ुटबॉलर हैं, लेकिन ये उनका दुर्भाग्य ही रहा है कि वे अर्जेंटीना को कोई बड़ा ख़िताब नहीं दिला पाए.

इमेज कॉपीरइट AFP

कोपा अमरीका कप में मिली हार के बाद मेसी ने अंतरराष्ट्रीय फ़ुटबॉल को भले संन्यास कहा हो लेकिन क्लब फुटबॉल में अभी भी उनका जादू देखने को मिलता रहेगा. मेसी के बारे में दस दिलचस्प बातों पर एक नज़र.

1. मेसी भले ही अर्जेंटीना को चैंपियन के तौर पर नहीं देख पाए हों, लेकिन वे अर्जेंटीना के सबसे कामयाब फ़ुटबॉलर रहे हैं. उन्होंने अपनी टीम के लिए 55 गोल किए. इतने गोल अर्जेंटीना की ओर से किसी ने नहीं किया है.

इमेज कॉपीरइट Getty

2. दुनिया को अपनी फ़ुटबॉल की कलाकारी से दीवाना बनाने वाले मेसी बचपन में ग्रोथ हारमोन संबंधी बीमारी से ग्रसित थे. उनकी प्रतिरोधी क्षमता कम थी और आंखों की रोशनी कम हो रही थी. ऐसे में उन्हें बढ़ने के लिए बाहर से हारमोन लेने की ज़रूरत पड़ गई. उन्हें इसके लिए लगातार तीन सालों तक, सप्ताह के सातों दिन पांव में सुई लेनी पड़ी थी.

3. मेसी की फ़ुटबॉल प्रतिभा को सबसे पहले बार्सिलोना ने पहचाना था. क्लब ने 13 साल की उम्र में मेसी से 14 दिसंबर, 2000 को अनुबंध किया था. मेसी अपने पिता के साथ बार्सिलोना के तकनीकी सचिव कार्लेस रेक्सेक से अनुबंध करने गए थे. ख़ास बात ये है कि मेसी के साथ क्लब को क़रार करने की इतनी जल्दी थी कि ये अनुबंध एक नैपकिन पेपर पर लिखा गया था.

इमेज कॉपीरइट Reuters

4. मेसी को बचपन से खाना बहुत पसंद रहा है. उन्हें तला हुआ बीफ़, सुअर का मांस, चिकन, टमाटर, प्याज़ इत्यादि खाने में पसंद है.

5. मेसी को 2004 में स्पेन ने अपने देश की ओर से खेलने का ऑफ़र दिया था. लेकिन मेसी ने इस ऑफ़र को ठुकरा दिया था. उन्होंने तब तक अर्जेंटीना की ओर से खेलने की शुरुआत नहीं की थी.

6. अर्जेंटीना की ओर से मेसी ने अगस्त 2005 में हंगरी के ख़िलाफ़ अपना इंटरनेशनल डेब्यू किया था. महज़ 18 साल की उम्र में मेसी पहले मैच में महज़ 47 सेकेंड मैदान पर खेल पाए थे, उन्हें रेड कार्ड दिखाया गया था और वे मैच में आगे नहीं खेल पाए थे.

इमेज कॉपीरइट Getty

7. मेसी के पूर्वज इटालियन मूल के थे. उनके पूर्वज 1883 में अर्जेंटीना में आकर बसे. उनकी मां लेबनानी मूल की हैं.

8. मेसी का जन्म अर्जेंटीना के रोसारियो में हुआ था, यहीं पर चे ग्वारा का भी जन्म हुआ था.

इमेज कॉपीरइट AP

9. मेसी फुटबॉल के मैदान से बाहर लोगों की सहायता के लिए काफ़ी काम करते रहे हैं. उन्होंने लियो मेसी फाउंडेशन का गठन 2007 में किया था. उन्होंने अपने शहर में बच्चों का एक अस्पताल बनवाया हुआ है. सीरियाई बच्चों की सहायता के लिए उन्होंने 2013 में अपनी कुल कमाई का एक तिहाई हिस्सा दान दे दिया था.

10. मेसी के बेटे का जन्म 2 नवंबर, 2012 में हुआ था. थियागो के जन्म के महज़ 72 घंटे के अंदर उन्हें नेवले ओल्ड ब्वॉयज क्लब ने अनुबंधित किया है. थियागो के नाम का टैटू मेसी ने अपने पांव में गुदवाया हुआ है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार