'सॉरी, पाकिस्तान में टैलेंट नहीं है'

  • 13 जुलाई 2016
इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption विराट और आफ़रीदी

शाहिद आफ़रीदी का कहना है कि क्रिकेट में जिस स्तर के खिलाड़ियों की डिमांड है वो पाकिस्तान के पास नहीं है.

बीबीसी उर्दू के साथ एक इंटरव्यू में जब पूछा गया कि टीम सेलेक्शन में मेरिट को कितनी अहमियत दी जाती है, तो आफ़रीदी का कहना था, "जिस तरीक़े का टैलेंट इस वक़्त सामने आ रहा है और जिसके हवाले से हम बहुत सी बातें करते हैं कि पाकिस्तान में बड़ा टैलेंट है. सॉरी पाकिस्तान में अभी वो टैलेंट नहीं है जिस लेबल के क्रिकेट की डिमांड है खिलाड़ियों की."

इस बात पर कि उन्हें पाकिस्तान क्रिकेट टीम में अगर न चुना गया उनका कहना था कि नो इशू. यानी ये उनके लिए कोई मायने नहीं रखेगा.

बीबीसी ने जब आफ़रीदी के पूछा कि पाकिस्तान महिला क्रिकटे टीम को बहेतर बनाने के लिए क्या किया जाना चाहिए, उन्होंने कहा कि पहले मर्दों की टीम को तो ठीक कर लें.

इमेज कॉपीरइट AFP

उनका कहना था कि जब मर्दों के लिए ही सहूलियत मुहैया नहीं है तो ज़रा सोचें औरतें किन हालात का सामना कर रही होंगी.

अपनी रिटायरमेंट पर एक सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि वो पहले चाहते थे कि एक अच्छी टीम बनाकर रिटायर हों. लेकिन ऐसा नहीं हो सका.

उनका कहना था कि एक खिलाड़ी की हैसियत से वो दूसरे पाकिस्तानी खिलाड़ियों से बहुत बेहतर हैं.

उन्होंने ये भी कहा कि पाकिस्तानी क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड में बहुत सुधार हो सकता है लेकिन वो इसके बारे में कुछ कहेंगे तो उन्हें नोटिस मिल जाएगा.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार