BBCHindi.com
अँग्रेज़ी- दक्षिण एशिया
उर्दू
बंगाली
नेपाली
तमिल
 
शनिवार, 15 दिसंबर, 2007 को 15:55 GMT तक के समाचार
 
मित्र को भेजें   कहानी छापें
'आईसीएल-आईपीएल में हो मुक़ाबला'
 

 
 
आईसीएल के साथ कपिलदेव (फ़ाइल फ़ोटो)
कपिल ने भरोसा दिलाया है कि लीग में जो भी कमी सामने आएगी, उसे दूर किया जाएगा
भारत के लिए क्रिकेट विश्वकप जीतने वाली टीम के कप्तान कपिल देव इंडियन क्रिकेट लीग की शुरुआत से बहुत खुश नज़र आ रहे हैं.

ऑस्ट्रेलिया के कैरी पैकर की तर्ज पर देश-विदेश के कई क्रिकेटरों के साथ शुरू हुआ यह टूर्नामेंट अब अपने अंतिम पड़ाव पर पहुँच चुका है.

रविवार को आईसीएल के पहले 20-20 टूर्नामेंट का फ़ाइनल हरियाणा में पंचकुला के ताऊ देवीलाल स्टेडियम में खेला जाएगा.

इस टूर्नामेंट और आगे की योजना को लेकर आईसीएल के चेयरमैन कपिल
देव से विशेष बातचीत के प्रमुख अंशः-

कपिल जी आपने जिस टूर्नामेंट की शुरुआत की थी आज वो अपने चरमोत्कर्ष पर है. कैसा महसूस कर रहे हैं.

देखिए, अब इस वक़्त ऐसा कोई शब्द नहीं हैं कि मैं आप को बयान कर सकूं. बस यही कह सकता हूं कि जब बच्चा जन्म लेता है तो उसके माँ बाप को जो खुशी हो सकती है, बस वही खुशी हो रही है.

बहुत अच्छा लग रहा है कि हमारे साथी क्रिकेटरों ने एक बीड़ा उठाने का सोचा था और अब वह ऐसी जगह पर पहुंच गया है कि फ़ाइनल आ रहा है.

जब तक फ़ाइनल बॉल ख़त्म न हो जाए, सब चिंतित भी हैं कि कोई अड़चन नहीं आनी चाहिए लेकिन बहुत अच्छा लग रहा है.

आपने एक बीड़ा उठाया, आपके साथियों ने सहयोग दिया. तमाम प्रतिकूल चीज़ों के बीच आपने टूर्नामेंट किया. मैं जानना चाहता हूं कि क्या आपको लगता है कि लीग को आगे बढ़ाने के लिए कुछ और सहयोग मिलना चाहिए? क्या उम्मीद है आपको, लीग आगे कैसे चलेगी?

देखिए, अगर क्रिकेट की बात करते हैं तो जो क्रिकेट प्रेमी हैं, हमारा साथ दें. जो हमारी कमियां हैं, ग़लतियां हैं, उनको सामने लाएं. हम उनको सुधारना चाहेंगे.

हम रातोंरात तो कुछ नहीं कर पाएंगे लेकिन अगर कोई कमी हो हम दूर करना चाहते हैं. लेकिन हम कह सकते हैं कि पहली बार हुआ है तो बहुत अच्छा हुआ है. और उम्मीद करते हैं कि इसी तरह हमारी लगन बनी रहेगी.

आईसीएल टूर्नामेंट हो, आईपीएल टूर्नामेंट हो या कोई और लीग. क्रिकेट को जो एक नया स्वरूप मिला है, उसका क्या भविष्य है? क्या आप समझते हैं कि इसका भविष्य सुनहरा होगा?

ये एक नई पीढ़ी के लिए है. उन जवान बच्चों के लिए है जो शायद डॉक्टर, इंजीनियर या वैज्ञानिक नहीं बन सकते हैं लेकिन उनके पास एक कला है, एक खेल है, एक जोश है.

और अगर खेल में किसी को अपनी ज़िंदगी बनानी है तो मैं कहूंगा कि इसमें ये सब कुछ है.

क्या आपको लगता है कि आपका एक सपना पूरा हो गया है या एक तरह से यह अब भी अधूरा है. क्या ऐसा दिन आएगा जब बीसीसीआई की प्रोफ़ेशनल लीग और आईसीएल की टीम के बीच मुक़ाबले होने लगेंगे?

हम चाहेंगे कि वो दिन जल्द से जल्द आए. अगर ऐसा होता है तो अच्छा होगा. बहुत खुशी होगी. बोर्ड वाले भी इस तरह की चीज़ों पर ध्यान दें और हमारी पीठ थपथपाएं और बोलें कि बहुत अच्छा किया है.

एक क्रिकेटर होने के नाते हम चाहते हैं कि हमें सबका आशीर्वाद और प्यार मिले.

और मैदान भी चाहिए जिन पर मैच हो सके?

जी बिल्कुल. हर चीज़ चाहिए. अगर हमें कुछ सफलता हासिल करनी है तो एक-दूसरे का हाथ पकड़ कर ही आगे जाना चाहिए.

अगर हम क्रिकेट की सेवा कर सकते हैं, तो हम तैयार हैं.

 
 
इससे जुड़ी ख़बरें
शुरू हो रहा है आईसीएल का सफ़र
30 नवंबर, 2007 | खेल की दुनिया
'आईसीएल को मान्यता दे बीसीसीआई'
26 नवंबर, 2007 | खेल की दुनिया
आईसीएल के जवाब में आईपीएल
13 सितंबर, 2007 | खेल की दुनिया
कोर्ट से आईसीएल को मिली राहत
27 अगस्त, 2007 | खेल की दुनिया
इंडियन क्रिकेट लीग को मिला सहारा
22 अगस्त, 2007 | खेल की दुनिया
कई युवा खिलाड़ी आईसीएल में शामिल
20 अगस्त, 2007 | खेल की दुनिया
कपिल: देश बड़ा या क्रिकेट?
18 अक्तूबर, 2002 | पहला पन्ना
सुर्ख़ियो में
 
 
मित्र को भेजें   कहानी छापें
 
  मौसम |हम कौन हैं | हमारा पता | गोपनीयता | मदद चाहिए
 
BBC Copyright Logo ^^ वापस ऊपर चलें
 
  पहला पन्ना | भारत और पड़ोस | खेल की दुनिया | मनोरंजन एक्सप्रेस | आपकी राय | कुछ और जानिए
 
  BBC News >> | BBC Sport >> | BBC Weather >> | BBC World Service >> | BBC Languages >>