http://www.bbcchindi.com

मंगलवार, 25 दिसंबर, 2007 को 12:41 GMT तक के समाचार

भारतीय टीम के लिए सुनहरा अवसर

विश्व चैंपियन आस्ट्रेलिया और विश्वास से भरी भारतीय टीम के बीच चार मैचों की टेस्ट सीरिज़ का पहला मैच 26 दिसंबर को मेलबार्न में शुरू हो रहा है जिसमें भारतीय टीम अपनी मज़बूत बैंटिंग क्रम के साथ मैदान में उतरेगी तो वहीं मेज़बान टीम यह टेस्ट सीरिज़ प्रसिद्ध गेंदबाज गेलन मैकग्रा और शेन वार्न के बिना खेलेगी.

गेलन मैकग्रा और शेन वार्न क्रिकेट की सक्रिय दुनिया को अलविदा कह चुके हैं. आस्ट्रेलियाई टीम तीन तेज़ गेदबाजों के अलावा स्पिनर ब्रैड हॉग के साथ मैच खेलने उतरेगी.

भारत के लिए आस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरिज़ जीतने का यह एक सुनहरा अवसर होगा. ग़ौरतलब है कि हाल के वर्षों में आस्ट्रेलिया की पिच बल्लेबाजों के लिए अनुकूल रही है.

उधर भारतीय खिलाड़ियों सौरभ गांगुली और राहुल द्रविड़ को छोड़ कर किसी अन्य भारतीय बल्लेबाज को इस मैच से पहले लंबी पारी खेलने का मौक़ा नहीं मिल पाया है.

भारतीय बल्लेबाजों की बड़ी चिंता होगी कि वे कैसे आस्ट्रेलिया की परिस्थितियों में ख़ुद को ढाल पाते हैं.

आस्ट्रेलियाई गेंदबाज ब्रेट ली को छोड़ कर शॉन टेट, मिशेल जॉनसन और स्टुअर्ट क्लार्क के पास अपने दमख़म पर मैच जीताने का अनुभव नहीं है. फिर भी टेट की तेज़ और जॉनसन की मध्यम गति की गेंदबाज़ी भारतीय बल्लेबाज़ों के लिए परेशानी खड़ी कर सकती है.

हाल में पाकिस्तान के ख़िलाफ़ अच्छे प्रदर्शन के बाद सुर्ख़ियों मे आए भारतीय टीम के पूर्व कप्तान सौरभ गांगुली को विश्वास है कि भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ अच्छा प्रर्दशन करेगी.

यादगार सीरिज़

गांगुली ने कहा, "जब हम वर्ष 2003 में यहाँ आए थे तब गेंदबाज़ी के क्षेत्र में हमारा आक्रमण कमज़ोर था. इस बार हम बेहतर स्थिति में है. धोनी के नंबर सात पर खेलने से हमारी बैटिंग भी मज़बूत हुई है."

भारत की चिंता गेंदबाज़ी को लेकर भी है. हालाँकि ज़हीर ख़ान की गेंदबाज़ी को लेकर कोई परेशानी नहीं है लेकिन पिछले एक पखवाड़े से उन्होंने गेंदबाज़ी नहीं की है. यही बात रूद्र प्रताप सिंह के बारे में भी सच है.

भारतीय टीम को कप्तान अनिल कुंबले और हरभजन सिंह की गेंदबाज़ी पर ही भरोसा करना होगा.

हो सकता है कि आस्ट्रेलिया में खेली जाने वाली यह टेस्ट सिरीज़ सौरभ गांगुली, राहुल द्रविड़, सचिन तेंदुलकर, अनिल कुंबले और वीवीएस लक्ष्मण के लिए आख़िरी टेस्ट सीरिज़ साबित हो. इसलिए ये खिलाड़ी इस सीरिज़ को यादगार बनाने के लिए पूरे दम-ख़म के साथ मैदान में उतरेंगे.

ऑस्ट्रेलिया

रिकी पॉटिंग (कप्तान), एडम गिलक्राइस्ट, स्टुअर्ट क्लार्क, माइकल क्लार्क, मैथ्यू हेडन, ब्राड हॉग, माइक हसी, फिल जैक्स, मिशेल जॉनसन, ब्रेट ली, एंड्रयू साइमंड्स, शॉन टेट

भारत

अनिल कुंबले (कप्तान), वसीम जाफ़र, वीरेंदर सहवाग, राहुल द्रविड़, सचिन तेंदुलकर, सौरभ गांगुली, वीवीएस लक्ष्मण, युवराज सिंह, महेंद्र सिंह धोनी, इरफ़ान पठान, हरभजन सिंह, ज़हीर ख़ान, रूद्र प्रताप सिंह, इशांत शर्मा, पंकज सिंह और दिनेश कार्तिक

अंपायर

मार्क बेंसन और बिली बॉडेन