http://www.bbcchindi.com

रविवार, 20 अप्रैल, 2008 को 14:20 GMT तक के समाचार

नाइट राइडर्स की लगातार दूसरी जीत

डेविड हसी की नाबाद पारी की बदौलत कोलकाता नाइट राइडर्स ने डेकन चार्जर्स को पाँच विकेट से हरा दिया है. पहले बल्लेबाज़ी करते हुए डेकन चार्जर्स की टीम 110 रन पर ही आउट हो गई थी.

जबाव में ख़राब शुरुआत के बाद कोलकाता नाइट राइडर्स ने पाँच विकेट के नुक़सान पर 19 ओवर में ही लक्ष्य हासिल कर लिया.

जब कोलकाता नाइट राइडर्स का स्कोर 89 रन था, उस समय स्टेडियम के एक फ़्लड लाइट्स टॉवर में ख़राबी आ गई और स्टेडियम में अंधेरा छा गया. इसे ठीक करने में काफ़ी समय लगा.

लेकिन कम स्कोर के मैच में डेविड हसी ने संयम बनाए रखा और 38 रन बनाकर नाबाद रहे. पहले मैच में धमाका करने वाले ब्रैंडन मैकुलम सस्ते में निपटे. जबकि रिकी पोंटिंग अपना खाता भी नहीं खोल पाए.

कप्तान सौरभ गांगुली ने 14 रनों का योगदान दिया. डेकन चार्जर्स की ओर से चमिंडा वास और प्रज्ञान ओझा ने दो-दो विकेट झटके.

इससे पहले डेकन चार्जर्स ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाज़ी करने का फ़ैसला किया. लेकिन उनकी शुरुआत काफ़ी ख़राब रही. बाद के बल्लेबाज़ों ने भी कोई अच्छा प्रदर्शन नहीं किया.

नियमित अंतराल पर डेकन चार्जर्स के विकेट गिरते रहे और पूरी टीम 20 ओवर भी नहीं खेल पाई. वीवीएस लक्ष्मण की कप्तानी वाली इस टीम ने 18.4 ओवर में 110 रन बनाए.

डेकन चार्जर्स की ओर से पारी की शुरुआत की एडम गिलक्रिस्ट और वेणुगोपाल राव ने. वेणुगोपाल राव सिर्फ़ 14 रन बनाकर ईशांत शर्मा की गेंद पर आउट हो गए.

झटका

लेकिन डेकन चार्जर्स को तगड़ा झटका उस समय लगा जब कप्तान वीवीएस लक्ष्मण बिना खाता खोले पवेलियन लौट गए. इसके बाद पिच पर डेकन चार्जर्स के सबसे महंगे खिलाड़ी एंड्रयू साइमंड्स.

एंड्रयू साइमंड्स अपने साथी खिलाड़ी एडम गिलक्रिस्ट के साथ मिलकर संभल कर खेल रहे थे, जो उनके स्वभाव से अलग था. दोनों ने 25 रन ही जोड़े थे कि गिलक्रिस्ट आउट हो गए.

गिलक्रिस्ट ने 23 रन बनाए. इसके बाद तो विकेट गिरने का सिलसिला ही शुरू हो गया. रोहित शर्मा शून्य पर तो स्कॉट स्टाइरिस छह रन बनाकर आउट हुए. दूसरे छोर से साइमंड्स डटे रहे.

उनके 32 रन पर आउट होते ही रही-सही कसर भी पूरी हो गई. साइमंड्स ने 39 गेंद पर दो चौके और दो छक्के लगाए. कोलकाता नाइट राइडर्स की ओर से मुरली कार्तिक सबसे सफल रहे.

उन्होंने 17 रन देकर तीन विकेट चटकाए. अजित अगरकर को दो विकेट मिले. हालाँकि वे थोड़े महंगे साबित हुए. पाकिस्तान के मोहम्मद हफ़ीज़ ने सबसे किफ़ायती गेंदबाज़ी की.

उन्होंने चार ओवर में आठ रन देकर एक विकेट लिए. ईशांत शर्मा ने तीन ओवर में नौ रन देकर एक विकेट लिए.