BBCHindi.com
अँग्रेज़ी- दक्षिण एशिया
उर्दू
बंगाली
नेपाली
तमिल
 
शनिवार, 31 मई, 2008 को 14:15 GMT तक के समाचार
 
मित्र को भेजें   कहानी छापें
फ़ाइनल राजस्थान और चेन्नई के बीच
 
युवराज सिंह
युवराज सिंह की टीम अपने स्वाभाविक खेल का प्रदर्शन नहीं कर सकी
मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेला गया आईपीएल का दूसरा सेमीफ़ाइनल भी पहले सेमीफ़ाइनल की तरह एकतरफ़ा और रोमांचविहीन रहा.

फ़ाइनल में पहुँचने के लिए स्वाभाविक दावेदार मानी जा रही किंग्स इलेवन पंजाब की टीम को चेन्नई सुपर किंग्स ने रौंदते हुए नौ विकेट से हरा दिया.

पहले बल्लेबाज़ी करते हुए किंग्स इलेवन पंजाब की टीम मात्र 112 रनों का स्कोर खड़ा कर पाई थी और चेन्नई सुपर किंग्स ने सिर्फ़ एक विकेट खोकर पंद्रहवें ओवर में ही यह लक्ष्य हासिल कर लिया.

अब रविवार को फ़ाइनल मैच राजस्थान रॉयल्स और चेन्नई सुपर किंग्स के बीच खेला जाएगा.

राजस्थान रॉयल्स की टीम ने शुक्रवार को दिल्ली डेयर डेविल्स को 105 रनों से हराकर फ़ाइनल में जगह बना ली थी.

आसान जीत

पंजाब ने जो लक्ष्य चेन्नई के सामने रखा था उससे ही तय हो गया था कि मैच में बहुत रोमांच होने की संभावना नहीं है और बल्लेबाज़ों ने इसे सही साबित किया.

जब सातवें ओवर में पहले 50 रन पूरे हुए तो मैच की तस्वीर एक तरह से साफ़ होने लगी थी.

चेन्नई की टीम ने तीसरे ओवर में विद्युत के रुप में पहला विकेट खोया जब टीम का स्कोर 14 रन था.

इसके बाद पार्थिव पटेल और सुरेश रैना ने मिलकर आत्मविश्वास के साथ टीम की नैया पार लगा दी.

दोनों ने 78 रनों में सौ रनों की भागीदारी निभाई.

पार्थिव पटेल ने 48 गेंदों में 51 रन बनाए जिसमें आठ चौके शामिल हैं.

उधर सुरेश रैना ने 34 गेंदों में 55 रन बनाए जिसमें चार चौके थे और चार छक्के.

पंजाब ने जो लक्ष्य रखा था उसे हासिल करने के लिए 5.60 रनों के औसत की ज़रुरत थी लेकिन चेन्नई ने 7.82 रनों के औसत से खेलते हुए जीत हासिल कर ली.

लड़खड़ाती पारी

चेन्नई के गेंदबाज़ों ने अपने बेहतरीन प्रदर्शन से शुरुआती ओवरों से ही पंजाब की कमर तोड़ कर रख दी.

किंग्स इलेवन की टीम ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाज़ी करने का फ़ैसला किया. लेकिन उसकी शुरुआत खराब रही. जेम्स होप्स और संगकारा के रूप में उसके दो अहम विकेट शुरु में ही गिर गए.

दूसरे ओवर में ही नतिनी ने होप्स (दो रन) का विकेट लिया जबकि तीसरे ओवर में गोनी ने संगकारा (तीन रन) को आउट कर दिया.

धोनी
धोनी की टीम के लिए सेमीफ़ाइनल तक पहुँचने का रास्ता इतना आसान नहीं रहा था

इसके बाद आए युवराज सिंह भी कुछ जम नहीं पाए. गोनी ने उन्हें मात्र चार के स्कोर पर मुरलीधरन के हाथों कैच आउट करवा दिया. सारी उम्मीदें शॉन मार्श पर टिकी हुई थीं लेकिन नतिनी ने शॉन मार्श को 23 के स्कोर पर आउट कर दिया.

पंजाब का स्कोर इस समय था चार विकेट पर 34 रन.

इस नाज़ुक मोड़ पर पंजाब की टीम को बड़ी साझेदारी की ज़रूरत थी लेकिन तीसरा रन लेने की होड़ में इरफ़ान पठान केवल तीन के स्कोर पर रन आउट हो गए.

लगभग हर दूसरे ओवर में पंजाब के विकेट लगातार गिर रहे थे. अभी इरफ़ान पठान पविलियन लौटे ही थे कि जयवर्धने भी उनके पीछे-पीछे पविलियन वापस चले गए. वे आठ के स्कोर पर मॉर्केल की गेंद का शिकार बने. ये पंजाब का छठा विकेट था.

मैदान पर मानो चेन्नई के गेंदबाज़ों की धूम मची हुई थी. पहले 10 ओवरों में पंजाब की टीम 50 रन भी नहीं बना पाई.

मार्श के बाद पीयूष चावला पंजाब के पहले बल्लेबाज़े थे जिन्होंने दोहरे अंक में प्रवेश किया था, वे 12 रन बनाकर खेल रहे थे लेकिन मुरलीधरन ने उनका विकेट चटका लिया. पंजाब का स्कोर था सात विकेट पर 63 रन.

उस समय लग रहा था कि पंजाब की टीम 100 का स्कोर भी नहीं जुटा पाएगी. लेकिन आख़िर में विल्किन मोटा और रोमेश पवार कुछ संभल कर खेले जिससे टीम 100 का आँकड़ा पार कर सकी यानी जो काम शीर्ष क्रम के बल्लेबाज़ों को करना चाहिए था वो पुछल्ले बल्लेबाज़ों ने किया.

विल्किन को 25 के स्कोर पर मॉर्केल ने आउट किया जबकि रोमेश पवार 28 रन पर नाबाद रहे. पंजाब की टीम ने 20 ओवरों में आठ विकेट के नुकसान पर 112 रन बनाए.

 
 
शेन वार्न रॉयल्स की जीत
राजस्थान रॉयल्स ने मुंबई इंडियंस को एक रोमांचक मुक़ाबले में हराया.
 
 
जयपुर धमाका कहाँ गए किंग खान
आईपीएल का बड़ा चेहरा बने शाहरुख़ इसके क्लाइमैक्स से हुए ग़ायब.
 
 
आईपीएल आईपीएल एक बुलबुला?
रविकांत सिंह का कहना है कि आईपीएल का बुलबुला जल्दी फट सकता है.
 
 
इससे जुड़ी ख़बरें
दो अहम सिरीज़ में सचिन नहीं
29 मई, 2008 | खेल की दुनिया
सुर्ख़ियो में
 
 
मित्र को भेजें   कहानी छापें
 
  मौसम |हम कौन हैं | हमारा पता | गोपनीयता | मदद चाहिए
 
BBC Copyright Logo ^^ वापस ऊपर चलें
 
  पहला पन्ना | भारत और पड़ोस | खेल की दुनिया | मनोरंजन एक्सप्रेस | आपकी राय | कुछ और जानिए
 
  BBC News >> | BBC Sport >> | BBC Weather >> | BBC World Service >> | BBC Languages >>