http://www.bbcchindi.com

बुधवार, 21 मई, 2008 को 13:31 GMT तक के समाचार

रोमांचक मैच में किंग्स इलेवन जीते

आईपीएल मुकाबले के बेहद रोमांचक मैच में किंग्स इलेवन पंजाब ने मुंबई इंडियंस को एक रन से मात दी है.

किंग्स इलेवन की टीम ने 20 ओवरों में चार विकेट के नुकसान पर 189 रन बनाए थे लेकिन इस स्कोर का पीछा करते हुए मुंबई इंडियंस की टीम 188 रन बना पाई.

आख़िरी ओवर काफ़ी रोमांचक था. एक ओवर में 19 रन बनाने थे लेकिन मुंबई इंडियंस की टीम ने अफ़रातफ़री में इसी दौरान तीन विकेट गवाँ दिए- तीनों रन आउट.

इससे पहले टॉस मुंबई इंडियंस ने जीता था और उसने पहले फ़ील्डिंग करने का फ़ैसला किया.

किंग्स इलेवन की शुरुआत शॉन मार्श और जेम्स होप्स ने की. पहले ओवर की तीसरी ही गेंद में होप्स आउट हो गए. वे अपना खाता भी नहीं खोल पाए.

लेकिन मार्श ने धमाकेधार तरीके से खेलना शुरु किया और जमकर चौके छक्के लगाए. वे शानदार 81 रन बनाकर चिटनिस की गेंद पर आउट हुए. उस समय टीम का स्कोर था दो विकेट पर 134 रन.

इसके बाद बारी थी पोमरसबैच और कप्तान युवराज सिंह की. लेकिन युवराज सिंह मात्र सात रन बनाकर चिटनिस की गेंद पर आउट हो गए.

युवराज के बाद आए जयवर्धने भी एक रन बनाकर चलते बने.

इस बीच पोमरसबैच ने रन जुटाना जारी रखा. उन्होंने 50 गेंदों में 79 रन बनाए और अंत तक आउट नहीं हुए. वे अपनी टीम को अच्छा स्कोर दिलाने में सफल रहे.

किंग्स इलेवन की टीम ने 20 ओवरों में चार विकेट के नुकसान पर 189 रन बनाए.

बेकार गई सचिन की पारी

मुंबई इंडियंस की पारी की शुरुआत जयसूर्या और सचिन तेंदुलकर ने की. दोनों ने आते ही रन जुटाने शुरू कर दिए.

लेकिन 21 के निजी स्कोर पर श्रीसंत ने जयसूर्या को एलबीडब्ल्यू आउट कर दिया. इसके बाद ड्वेन 20 के स्कोर पर रन आउट हुए.

लेकिन सचिन मैदान पर डटे हुए थे- न सिर्फ़ डटे हुए थे बल्कि ग़ज़ब फ़ॉर्म में थे. उन्होंने मैदान पर चौकों की बरसात कर दी.

दूसरे छोर पर हालांकि विकेट गिरते रहे लेकिन ज़्यादातर बल्लेबाज़ों ने कुल स्कोर में अपना योगदान दिया. विकेट गिरने के बावजूद मुंबई इंडियस की रन बनाने की रफ़्तार कम नहीं हुई

अभिषेक नायर ने 18 गेदों में 27 रन बनाए. उन्हें पीयूष चावला की गेंद पर श्रीवास्तव ने आउट किया. ये मुंबई इंडियंस का तीसरा विकेट था.

इस बीच सचिन का रन बनाने का सिलसिला जारी थी लेकिन वे दुर्भाग्यपूर्ण रहे और रन आउट हो गए. उन्होंने 46 गेंदों में 65 रन बनाए और 12 ज़बरदस्त चौके जड़े. टीम का स्कोर था चार विकेट पर 159 रन.

सचिन के जाने के बाद मुंबई इंडियंस की पारी लड़खड़ा गई. युवराज सिंह ने मुंबई इंडियंस को दो बड़े झटके दिए. शॉन पोलोक अभी खाता भी नहीं खोल पाए थे कि युवराज ने उनका विकेट चटका लिया. इसके बाद रॉबिन उथप्पा भी 10 रन बनाकर युवराज का शिकार हुए. सातवां विकेट पीनल शाह का गिरा.

अंत में टीम को आख़िरी छह गेंदों में 19 रन बनाने थे. उस समय सिद्धार्थ चिटनिस और दिलहारा फ़र्नेंडो बल्लेबाज़ी कर रहे थे. मैच रोमांचक दौर में पहुँच चुका था- मुंबई इंडियंस को तीन गेदों में छह रन बनाने थे. लेकिन तभी दूसरा रन लेने के चक्कर में चिटनिस 15 के स्कोर पर रन आउट हो गए. पर रोमांच अब भी बरकरार था- दो गेंदें और चार रन.

लेकिन जल्दी-जल्दी बन बनाने के चक्कर में आशीष नेहरा और विक्रांत रन आउट हो गए. निर्धारित 20 ओवर ख़त्म हो गए और मुंबई इंडियंस 190 के लक्ष्य का पीछा करते हुए 188 रन जुटा पाए.

इस तरह मुंबई इंडियंस की टीम मात्र एक रन से हार गई.