http://www.bbcchindi.com

रविवार, 25 मई, 2008 को 16:12 GMT तक के समाचार

दादा ने नाइट राइडर्स को जीत दिलाई

आईपीएल के रोमांचक मुक़ाबले में सौरभ गांगुली की शानदार बल्लेबाज़ी के बूते कोलकाता नाइट राइडर्स ने किंग्स इलेवन पंजाब को धूल चटा दी.

इस मैच का कोई ख़ास महत्व नहीं था क्योंकि नाइट राइडर्स पहले ही सेमीफ़ाइनल से बाहर हो चुकी है. दूसरी ओर किंग्स इलेवन पंजाब अंतिम चार में जगह बना चुकी है.

ईडन गार्डन पर टॉस जीत कर पहले बल्लेबाज़ी करते हुए किंग्स इलेवन पंजाब ने कोलकाता नाइट राइडर्स को जीतने के लिए 175 रनों का लक्ष्य दिया था.

सौरभ गांगुली की टीम ने यह लक्ष्य दो गेंद बाकी रहते सात विकेटों के नुकसान पर हासिल कर लिया.

गांगुली 53 गेंदों पर 86 रन बनाकर नाबाद रहे.

नाइट राइडर्स की शुरुआत अच्छी हुई थी. सलमान बट्ट और गांगुली ने 45 रनों की साझीदारी की. बट्ट 24 रन बनाकर आउट हुए और इसके ठीक बाद डीबी दास बिना खाता खोले चलता बने.

इससे टीम पर दबाव बढ़ गया. डेविड हसी और लक्ष्मी रतन शुक्ला भी सस्ते में आउट हो गए.

लेकिन एक छोड़ से दादा टिके रहे और उनका भरपूर साथ दिया उमर गुल ने. गुल ने 11 गेंदों पर 24 रन ठोक कर जीत की राह आसान करने में अहम भूमिका निभाई.

किंग्स इलेवन की पारी

किंग्स इलेवन पंजाब ने कोलकाता नाइट राइडर्स के ख़िलाफ़ टॉस जीतकर पहले बैटिंग करते हुए छह विकेट पर 174 रन बनाए.

पारी की शुरुआत बढ़िया नहीं रही और जेम्स होप्स 13 रन बनाकर उमर गुल के शिकार बने लेकिन दूसरे विकेट के लिए शॉन मार्श और कुमार संगकारा ने आतिशी साझीदारी की.

मार्श 40 रन बनाकर मेंडिस की गेंद पर आउट हुए. संगकारा ने 45 गेंदों में सात चौकों और दो छक्कों की मदद से 64 रनों का योगदान किया. उन्हें उमर गुल ने चलता किया.

युवराज के 27 के स्कोर पर रन आउट होने के बाद टीम तूफ़ानी अंदाज़ में पारी ख़त्म नहीं कर सकी क्योंकि उमर गुल ने इरफ़ान पठान और पीयूष चावला को लगातार दो गेंदों पर बोल्ड कर दिया.

माहेला जयवर्धने सात रन बनाकर नाबाद रहे.

उमर गुल ने नाइट राइडर्स की ओर से शानदार गेंदबाज़ी की और चार ओवरों में सिर्फ़ 23 रन देकर चार विकेट चटकाए.