http://www.bbcchindi.com

बुधवार, 28 मई, 2008 को 19:28 GMT तक के समाचार

पंजाब ने राजस्थान को 41 रनों से हराया

मोहाली में बुधवार को खेला गया आईपीएल का ट्वेंटी20 मैच इस प्रतियोगिता के दो संभावित विजेताओं के बीच का मैच कहा जा रहा था.

और इस मैच से परिणाम से संकेत लें तो किंग्स इलेवन पंजाब ने दिखाया कि वह राजस्थान रॉयल्स पर भारी पड़ सकता है.

राजस्थान रॉयल्स भले की सबसे अधिक अंक लेकर सबसे ऊपर है लेकिन 41 रनों की जीत ने साबित किया कि किंग्स इलेवन पंजाब की टीम भी संयोग से सेमीफ़ाइनल में नहीं पहुँची है.

शॉन मार्श और जेम्स होप्स की शानदार बल्लेबाज़ी की बदौलत किंग्स इलेवन पंजाब ने निर्धारित 20 ओवरों में तीन विकेट खोकर 221 रन बनाए.

और इसके जवाब में राजस्थान रॉयल्स की टीम 20 ओवरों में सात विकेट खोकर सिर्फ़ 180 रन ही बना सकी.

शॉन मार्श को मैन ऑफ़ द मैच भी चुना गया.

शानदार पारी

शॉन मार्श ने आईपीएल का सबसे तेज़ सैकड़ा पूरा करते हुए 69 गेंदों में 115 रन बनाए.

उन्होंने सात छक्के लगाए और 11 चौके.

और जेम्स होप्स ने उनका साथ देते हुए 51 रनों की अहम पारी खेली. जिसमें सात चौके और एक छक्का शामिल था.

होप्स के रुप में जब पहला विकेट गिरा तो चौदहवाँ ओवर चल रहा था और टीम का कुल स्कोर था 133 रन.

मार्श का साथ देने आए युवराज ने 16 गेंदों में 49 रन जुटाए.

बीसवें ओवर में पहले मार्श लौटे और फिर युवराज रन आउट हुए.

221 रनों के पहाड़ का जवाब देने उतरी राजस्थान रॉयल्स की टीम के साथ बुधवार को उनके कोच और कप्तान शेन वॉर्न साथ नहीं थे.

राजस्थान की पारी की शुरुआत ही अच्छी नहीं रही और दूसरे ही ओवर में मोहम्मद कैफ़ श्रीसंत की गेंद पर बोल्ड हो गए.

यूनुस ख़ान भी तीन रन बनाकर पेवेलियन लौट गए.

पटेल ने ज़रूर पारी को संभालने की कोशिश की लेकिन ग्यारहवें ओवर में जब वे चावला की गेंद पर बोल्ड हुए तो स्कोर 78 रन था. उन्होंने 39 गेंदों में 57 रन जोड़े.

इसके बाद एक के बाद एक विकेट गिरते रहे और युसूफ़ पठान के 39 रनों के अलावा कोई कुछ ख़ास नहीं जोड़ पाया.

कामरान अकमल ने ज़रुर तीन छक्कों और एक चौके की मदद से आठ गेंदों में 24 रन बनाए तो उम्मीद जागी थी लेकिन वे भी इतने पर ही रुक गए.

बीस ओवर ख़त्म होने तक टीम 180 रन ही जोड़ सकी और किंग्स इलेवन पंजाब की 41 रनों से जीत हो गई.

राजस्थान रॉयल्स ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाज़ी करने का फ़ैसला किया था.