विज्ञान-टेक्नॉलॉजी

  1. Video content

    Video caption: 16 करोड़ का एक इंजेक्शन, फिर भी नहीं बची वेदिका

    एक साल की वेदिका शिंदे, ये वही बच्ची है जिसे 16 करोड़ का इंजेक्शन दिये जाने के बाद भी बचाया नहीं जा सका.

  2. चीन ने ऑनलाइन गेमिंग को कहा "इलेक्ट्रॉनिक ड्रग्स", गिरे कंपनियों के शेयर

    मोबाइल पर गेम खेलते हुए कुछ युवा

    चीन के एक सरकारी मीडिया आउटलेट ने ऑनलाइन गेमिंग की आलोचना करते हुए उन्हें “इलेक्ट्रॉनिक ड्रग्स” की संज्ञा दी है.

    इसके बाद चीन की दो बड़ी गेमिंग कंपनियों टेनसेंट और नेटईज़ के शेयरों में दस फीसदी की गिरावट दर्ज की गयी है.

    पिछले कुछ दिनों से जिस तरह सरकार ने तकनीक क्षेत्र की कंपनियों को आड़े हाथों लिया है, उससे निवेशकों की चिंताएं बढ़ गयी हैं.

    सरकार ने प्राइवेट ट्यूटर सेवा देने वाली शिक्षा एवं तकनीक क्षेत्र की कंपनियों पर अपना शिकंजा कसने के लिए नए कदम उठाए हैं.

    क्यों की गयी है आलोचना?

    सरकार द्वारा चलाए जाने वाले इकॉनोमिक इन्फॉर्मेशन डेली में छपे एक लेख में बताया गया है कि बच्चे और किशोर ऑनलाइन गेमिंग के आदी हो रहे हैं जो उन पर नकारात्मक असर डाल रहा है. ये न्यूज़ आउटलेट आधिकारिक न्यूज़ एजेंसी शिन्हुआ से जुड़ा हुआ है.

    इस आर्टिकल में टेनसेंट के लोकप्रिय खेल हॉनर ऑफ़ किंग्स का ज़िक्र करते हुए कहा गया है कि छात्र इस गेम को एक दिन में आठ घंटे तक खेल रहे हैं.

    इस लेख में ये बताते हुए इंडस्ट्री पर नए प्रतिबंध लगाए जाने की मांग की गयी थी.

    इस आर्टिकल में लिखा गया, “किसी भी उद्योग, किसी भी खेल को इस तरह विकसित होने की अनुमति नहीं दी जा सकती है कि एक पूरी पीढ़ी ही ख़त्म कर दे.” इसके साथ ही इसे अफीम की संज्ञा भी दी गयी.

    टेनसेंट का मुख्यालय

    बचाव की मुद्रा में आई कंपनी

    टेनसेंट ने कहा है कि वह अपने गेम 'हॉनर ऑफ़ किंग्स' तक बच्चों की पहुंच और खेलने के समय में कटौती लाने के लिए कदम उठाएगी. कंपनी ने ये भी कहा है कि वह अपने सभी खेलों के लिए एक नीति बनाने जा रही है.

    इकॉनोमिक इनफॉर्मेशन डेली द्वारा अपने वीचैट पेज़ से आर्टिकल हटाए जाने के बाद शेयर की कीमतों में रिकवरी देखने को मिली.

    इससे एक हफ़्ते पहले भी टेनसेंट के शेयरों में भारी गिरावट देखी गयी थी जब सरकार ने टेनसेंट से दुनिया भर के रिकॉर्ड लेबल्स के साथ अपनी एक्सक्लूसिव म्यूजिक लाइसेंस डील तोड़ने के लिए कहा था.

    इसका उद्देश्य चीन की ऑनलाइन म्यूजिक स्ट्रीमिंग इंडस्ट्री में टेनसेंट के प्रभुत्व का सामना करना था.

    साल 2016 में एक अधिग्रहण के बाद से टेनसेंट चीन के एक्सक्लूसिव म्यूजिक स्ट्रीमिंग राइट्स में से 80 फीसदी का नियंत्रण करती है.

    चीनी सरकार पिछले कुछ समय से अपने देश की बड़ी कंपनियों पर शिकंजा कस रही है जिसके चलते टेनसेंट समेत कई कंपनियों के शेयरों में गिरावट देखी जा रही है.

  3. Video content

    Video caption: ऐसा रोबोट देखा है, जो विकलांग को चला दे?

    क्या आपने कभी ऐसा रोबोट देखा है, जो व्हीलचेयर पर बैठे व्यक्ति को बिना सहारे के चला दे.

  4. वाइयी यिप

    बीबीसी संवाददाता

    चीनी खिलाड़ी

    टोक्यो ओलंपिक की पदक तालिका में चीन सबसे ऊपर है, लेकिन फिर भी वहां मेडल जीतने वाले कई खिलाड़ियों की जमकर आलोचना हो रही है. आख़िर क्यों?

    और पढ़ें
    next
  5. Video content

    Video caption: 'बसपन का प्यार' गाने वाले असली गायक से मिलिए

    क्या आप जानते हैं कि इस गाने को मूल रूप से गाने वाले सहदेव या उसके दूसरे वर्जन बनाने वाले कलाकार नहीं हैं.

  6. Video content

    Video caption: गर्भवती औरतों की जान क्यों ले रहा कोरोना?

    कोरोना वायरस का कहर ब्राज़ील पर भी खूब पड़ा है. वहां गर्भवती महिलाओं की मौत बड़ी संख्या में हुई है.

  7. शुरैह नियाज़ी

    बीबीसी हिंदी के लिए भोपाल से

    सांकेतिक तस्वीर

    हाल ही में दिल्ली हाई कोर्ट ने केंद्र सरकार से कहा है कि वो ऑनलाइन गेम्स को लेकर एक राष्ट्रीय नीति बनाए.

    और पढ़ें
    next
  8. शाहरुख़ ख़ान

    भारतीय महिला हॉकी टीम के डच कोच शोर्ड मार्जिने ने एक ट्वीट कर कहा था कि अब वो घर देर से आएंगे. इस पर शाहरुख़ ख़ान की टिप्पणी पर शॉर्ड मारिन ने मज़ा लिया है.

    और पढ़ें
    next
  9. जैक गुडमैन

    बीबीसी रियलिटी चेक

    विशेषज्ञों को डर है कि लंबे समय तक सूखा ठीक होती उर्मिया झील को ख़तरे में डाल सकता है.

    पानी के लिए लोग सड़कों पर नारा लगा रहे हैं कि- हम प्यासे हैं. आम लोग यहाँ तक कि ईरान के सर्वोच्च नेता के ख़िलाफ़ भी विरोध-प्रदर्शन कर रहे हैं. ईरान के जल संकट को समझिए.

    और पढ़ें
    next
  10. प्राचीन ग्रीक मूर्ति

    न्यूड ओलंपिक का विचार खिलाड़ियों के प्रदर्शन, सांस्कृतिक परंपराओं और सेक्सिज़्म से जुड़े कई दिलचस्प सवाल पैदा करता है.

    और पढ़ें
    next