भारत-चीन सीमा पर तनाव

  1. मोदी और पुतिन

    चीनी मीडिया लिख रहा है कि भारत के लिए अफ़ग़ानिस्तान में शर्मनाक स्थिति पैदा हो गई है. एससीओ की 17 सितंबर की बैठक है और यहां रूस, चीन, पाकिस्तान सभी लामबंद दिख रहे हैं.

    और पढ़ें
    next
  2. राजनाथ सिंह का पाकिस्तान पर फिर हमला, बोले- उनका मॉडल भारत में ध्वस्त हो रहा है

    राजनाथ सिंह

    रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि पाकिस्तान को समझ आ गया है कि चरमपंथ को बढ़ावा देने का उनका मॉडल भारत में नाकाम हो रहा है.

    राजनाथ सिंह ने दिल्ली में ‘राष्ट्रीय सुरक्षा’ विषय पर एक कार्यक्रम में कहा, "पाकिस्तान समर्थित आतंकवाद का मॉडल भारत में ध्वस्त हो रहा है. हाल के कुछ वर्षों में उन्होंने सीमा पर सीज़फायर उल्लंघन बढ़ा दिए थे. सुरक्षाबलों से उन्हें हमेशा मुँहतोड़ जवाब मिला. पाकिस्तान को समझ आने लगा है कि सीज़फायर उल्लंघन से भी उनको कोई खास लाभ नहीं मिलने वाला है."

    उन्होंने बताया कि “भारत और पाकिस्तान के बीच में संघर्ष विराम समझौता फ़रवरी में हुआ था. हम इस वक़्त आपसी विश्वास की कमी के कारण ‘वेट एंड वॉच’ की मुद्रा में हैं.हालिया संघर्ष विराम समझौते के बाद सीमा के दोनों ओर कोई भी संघर्ष विराम का उल्लंघन नहीं हुआ है.’

    उन्होंने साथ ही कहा कि कश्मीर से बहुत जल्द चरमपंथ का ख़ात्मा हो जाएगा.

    राजनाथ सिंह ने कहा, “मेरा मानना है कि कश्मीर में बचा हुआ आतंकवाद भी समाप्त होगा. मेरा यह विश्वास इसलिए है क्योंकि अब तक अलगाववादी ताक़तें जो अनुच्छेद 370 और 35ए से मज़बूती पाती थीं वो अनुच्छेद अब समाप्त हो चुका है.”

    उन्होंने कहा कि स्वतंत्रता के बाद से ही भारत विरोधी बलों ने सीमा पर या सीमा के ज़रिए देश में अस्थिरता पैदा करने का माहौल बनाया है, इस दिशा में पाकिस्तान की धरती से बहुत सारी कोशिशें की जाती रही हैं.

    लद्दाख़ में गलवान घाटी की घटना का ज़िक्र करते हुए राजनाथ सिंह ने कहा कि ‘गलवान की घटना को एक साल का समय बीत चुका है, भारतीय सेना द्वारा दिखाई गई वीरता और संयम अतुलनीय है. भविष्य की पीढ़ियां बहादुर जवानों पर गर्व करेंगी.’

    सेना
  3. Video content

    Video caption: एलएसी पर बसे इस इलाक़े में किन मुश्किलों में लोग?

    भारत-चीन में तनावपूर्ण माहौल पिछले साल से जारी है. इससे सबसे ज़्यादा प्रभावित हुए हैं लेह के पास वो इलाके जो भारत-चीन सीमा से सटे हुए हैं.

  4. Video content

    Video caption: भारत चीन की एलएसी सीमा पर बसे लोगों की मुश्किलें

    भारत और चीन के बीच एलएसी पर तनाव अभी भी जारी है. भले ही दोनों देशों की सेनाएं शांति दिख रही हों लेकिन माहौल में तनातनी अक्सर दिख ही जाती है.

  5. दलाई लामा

    अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकेन ने बुधवार को तिब्बती बौद्ध धर्म गुरु दलाई लामा के प्रतिनिधियों से मुलाक़ात की थी. यह मुलाक़ात अब काफ़ी विवादित हो गई है.

    और पढ़ें
    next
  6. राघवेंद्र राव

    बीबीसी संवाददाता

    भारत-चीन

    दोनों पक्षों के बीच 11 बैठकें हो चुकीं हैं, 12वीं बैठक की तारीख़ की घोषणा होने वाली है, आख़िर यह मामला इतना पेचीदा क्यों हो गया है.

    और पढ़ें
    next
  7. राज कुंद्रा

    भारत के इलाके में कहां दिखा चीन का टेंट और कैसे बढ़ी अनिल अंबानी की मुश्किल. पढ़ें आज के अख़बारों की सुर्खियां.

    और पढ़ें
    next
  8. चीन को लेकर मोदी सरकार पर राहुल का वार, बोले- सरकार कुछ नहीं समझ रही

    राहुल गांधी

    कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कारगिल दिवस के दिन भारत सरकार को चीन को लेकर सावधान किया है.

    राहुल गांधी ने एक ट्वीट कर आरोप लगाया है कि केंद्र सरकार को समझ नहीं आ रहा कि चीन से कैसे निबटा जाए.

    उन्होंने आगे लिखा,"आज उनकी हरकतों को नज़रअंदाज़ करने से भविष्य में बड़ी मुश्किलें पैदा होंगी."

    राहुल गांधी ने अपनी ट्वीट में एक रिपोर्ट का उल्लेख किया है जिसमें दावा किया गया है कि पूर्वी लद्दाख के डेमचोक इलाक़े में अभी भारतीय हिस्से में चीन के कैंप मौजूद हैं.

    भारत और चीन के बीच पिछले साल मई से पूर्वी लद्दाख में तनाव की स्थिति बन गई थी.

    फ़िलहाल दोनों देशों के बीच सैनिकों की वापसी को लेकर वार्ताओं का चक्र जारी है.

    कांग्रेस महासचिव और पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने भी एक ट्वीट कर मोदी सरकार पर हमला बोला है.

    उन्होंने भी एक रिपोर्ट को साझा करते हुए लिखा है- “लाल आँख” दिखाइए साहेब, 56” फुलाइये साहेब !

    View more on twitter
    View more on twitter

    दोनों ही नेताओं ने साथ ही कारगिल युद्ध में जान गँवाने वाले भारतीय सैनिकों को श्रद्धांजलि भी दी है.

    राहुल गांधी ने लिखा है- "हमारे तिरंगे की गरिमा में अपनी जान देने वाले प्रत्येक सेनानी को दिल से श्रद्धांजलि. देश की सुरक्षा के लिए आपके व आपके परिवारों के इस सर्वोच्च बलिदान को हम हमेशा याद करेंगे."

    सुरजेवाला ने लिखा है- "हिमालय से ऊँचा साहस जिनका, जिन्होंने मातृभूमि की ख़ातिर किया सब अर्पण, भारत माँ के वीर जवानों को नमन."

  9. दलाई लामा

    असम में गोहत्या निरोधक क़ानून का प्रस्ताव, ममता की चुनाव याचिका पर कलकत्ता हाई कोर्ट का निर्देश, साथ में अख़बार की अन्य अहम सुर्खियां.

    और पढ़ें
    next
  10. Video content

    Video caption: COVER STORY: चीनी कम्युनिस्ट पार्टी के 100 साल

    कम्युनिस्ट पार्टी के सौ साल पूरे होने के मौक़े पर जिनपिंग ने कहा चीन को ग़ुलाम बनाने का सपना देखने वाली विदेशी ताक़तों को चकनाचूर कर देंगे.