चीन

  1. NIMSDAI PURJA

    ऐसा पहली बार हुआ है कि काराकोरम रेंज के इस पर्वत को लाँघने में किसी को कामयाबी मिली है. 28,251 फिट ऊंचे इस पर्वत को अब तक कोई नहीं लाँघ पाया था.

    और पढ़ें
    next
  2. जॉन सडवर्थ

    बीबीसी संवाददाता, बीजिंग से

    चीन

    शिनजियांग में रिपोर्टिंग पर भारी प्रतिबंधों के अलावा, चीन ने अब विदेशी मीडिया की रिपोर्टों को फ़ेक न्यूज़ बताना शुरू किया है.

    और पढ़ें
    next
  3. Video content

    Video caption: डोनाल्ड ट्रंप ने जाते-जाते चीन को दिया एक और झटका

    अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भले 20 जनवरी को सत्ता से विदा हो रहे हैं लेकिन जाते-जाते चीन को लेकर आक्रामकता में कोई कमी नहीं दिखा रहे.

  4. साइनोवैक बीजिंग स्थित दवा निर्माता कंपनी है

    ऑक्सफ़ोर्ड, फ़ाइज़र और मॉडर्ना के अलावा चीन की वैक्सीन भी कोरोना वायरस के ख़िलाफ़ दौड़ में शामिल है.

    और पढ़ें
    next
  5. Video content

    Video caption: भारत और चीन में जारी तनाव के बीच ट्रंप प्रशासन की एक रिपोर्ट से बढ़ी हलचल

    भारत और चीन में जारी तनाव के बीच ट्रंप प्रशासन की एक कथित गोपनीय रिपोर्ट सार्वजनिक होने से हलचल बढ़ गई है. इस रिपोर्ट में अमेरिका की एशिया प्रशांत रणनीति की बात की गई है.

  6. Video content

    Video caption: कचरे का दोबारा इस्तेमाल, कितना मुश्किल कितना आसान? - Duniya Jahan

    कुछ वर्ष पहले तक चीन दुनियाभर के प्लास्टिक और कागज़ी कचरे की अपने यहां रिसाइक्लिंग करता था. लेकिन साल 2018 में चीन ने ऐसा करना बंद कर दिया.

  7. चीन

    नवंबर महीने में एपल को पीछे छोड़ शाओमी दुनिया की तीसरी बड़ी स्मार्टफ़ोन निर्माता कंपनी बन गई थी. इसके अलावा आठ अन्य चीनी कंपनियों को ब्लैकलिस्ट में डाला गया है.

    और पढ़ें
    next
  8. ब्रेकिंग न्यूज़डब्लूएचओ की टीम कोविड-19 की शुरुआत का पता लगाने चीन पहुँची

    चीन का मांस बाज़ार

    विश्व स्वास्थ्य संगठन की टीम चीन के वुहान शहर पहुँच चुकी है. यह टीम कोविड-19 की शुरुआत कैसे हुई, इसकी जांच करने पहुँची है. विश्व स्वास्थ्य संगठन और चीन के बीच लंबे समय तक चली बातचीत के बात इस जांच को लेकर सहमति बनी है.

    10 वैज्ञानिकों की यह टीम रिसर्च इस्टीट्यूट, अस्पताल और सीफूड मार्केट के लोगों से इंटरव्यू लेगी.

    साल 2019 के आखिर में वुहान में पहली बार कोविड-19 के मामले पाए गए थे.

    गुरुवार को जब यह टीम वुहान पहुँची है तब वहाँ ज़िंदगी अब लगभग सामान्य हो चुकी है लेकिन उत्तरी चीन में कोरोना के नए मामले देखने को मिल रहे हैं.

    टीम अपनी जांच शुरू करने से पहले दो हफ्ते तक क्वारंटीन में रहेगी. टीम जांच के दौरान चीनी अधिकारियों की ओर से मुहैया कराए गए सैम्पल और प्रमाणों पर भरोसा करेगी.

    यह टीम किस जानवर से कोरोना की शुरुआत हुई है, इसकी जांच भी करेगी.

    चीन लंबे समय से यह कहते आया है कि कोरोना का संक्रमण वहाँ से शुरू नहीं हुआ है.

    विश्व स्वास्थ्य संगठन में वैश्विक संक्रमण और प्रतिक्रिया यूनिट के चेयरमैन प्रोफेसर डेल फ़िशर ने बीबीसी से कहा कि उम्मीद है कि दुनिया इसे एक वैज्ञानिक दौरे के तौर पर लेगी.

    उन्होंने कहा, “यह राजनीति और आरोप-प्रत्यारोप का विषय नहीं है बल्कि यह एक वैज्ञानिक सवाल के तह तक जाने की कोशिश है.”

    प्रोफेसर फ़िशर ने आगे कहा कि ज्यादातर वैज्ञानिक मानते हैं कि यह वायरस ‘प्राकृतिक रूप’से आया है.

    शुरुआत में ऐसा माना गया था कि कोविड-19 की शुरुआत वुहान के मांस बाज़ार से हुई है.

  9. नरेंद्र मोदी डोनल्ड ट्रंप

    ट्रंप प्रशासन की इस गोपनीय रिपोर्ट पर चीन ने कड़ा ऐतराज जताते हुए कहा है कि अमेरिका इलाक़े की शांति और स्थिरता को भंग करना चाहता है.

    और पढ़ें
    next
  10. Video content

    Video caption: Cover Story: कैसे ख़तरे में जान डालकर विदेश भागते हैं उत्तर कोरियाई?

    किम जोंग उन के शासन में ये ख़तरा और बढ़ गया है. उत्तर कोरिया छोड़नेवालों की मुश्किलें गहराती जा रही हैं.