यूरोप

  1. टीम बीबीसी हिन्दी

    नई दिल्ली

    कोविड-19

    यूरोप का एक समूह के तौर पर वैक्सीन हासिल करने का फ़ैसला क्या एक साझा ग़लती थी, पढ़िए क्या कहते हैं विशेषज्ञ

    और पढ़ें
    next
  2. एलेक्सी नवेल्नी

    कोर्ट ने नवेलनी को मिली सज़ा को क़रीब डेढ़ महीने कम कर दिया है, लेकिन उनकी सज़ा को बरकरार रखा है.

    और पढ़ें
    next
  3. Video content

    Video caption: कोरोना वैक्सीन की रेस में यूरोप कैसे पिछड़ गया? Duniya Jahan

    यूरोपीय यूनियन के विकसित माने जाने वाले देशों में कुछ फ़ीसदी लोगों को ही टीके लग सके हैं. यूरोप के कई देश टीकाकरण के मामले में ब्रिटेन और अमेरिका से काफी पीछे हैं.

  4. रेहान फ़ज़ल

    बीबीसी संवाददाता

    Subhas Chandra Bose, ParakramDivas, नेताजी सुभाष चंद्र बोस, NetajiSubhasChandraBose, 125th Birth Anniversary, Azad Hind Fauj

    1940 में जब हिटलर के बमवर्षक लंदन पर बम गिरा रहे थे, ब्रिटिश सरकार ने अपने सबसे बड़े दुश्मन सुभाष चंद्र बोस को कलकत्ता की प्रेसिडेंसी जेल में कैद कर रखा था. सुभाष चंद्र बोस की 124वीं जयंती के मौक़े पर पढ़िए नेताजी के कलकत्ता से यूरोप पहुँचने की कहानी.

    और पढ़ें
    next
  5. Video content

    Video caption: नेताजी सुभाष चंद्र बोस अंग्रेज़ों की आंखों में धूल झोंककर कैसे भागे थे? - Vivechana

    1941 में नेताजी सुभाष चंद्र बोस अंग्रेज़ों के कड़े पहरे के बावजूद पहले अफ़ग़ानिस्तान और फिर यूरोप भागने में सफल हो गए थे.

  6. टीम बीबीसी हिन्दी

    नई दिल्ली

    एंगेला मर्केल

    जर्मन चांसलर एंगेला मर्केल का चौथा कार्यकाल नौ महीने बाद ख़त्म हो रहा है. उनकी विदाई से क्या असर होगा, दुनिया जहान में पड़ताल.

    और पढ़ें
    next
  7. जर्मनी

    आर्मिन लाशेट को जर्मनी की चांसलर एंगेला मर्केल की पार्टी क्रिश्चन डेमोक्रेटिक यूनियन (सीडीयू) का नया नेता चुना गया है.

    और पढ़ें
    next
  8. Video content

    Video caption: 1 जनवरी 2021 से ब्रिटेन यूरोपीय संघ से अलग हो गया है.

    क्या इस फ़ैसले से भारतीयों के लिए बेहतर अवसर पैदा होंगे?

  9. Video content

    Video caption: और इस फ़ैसले का बाक़ी दुनिया पर क्या असर पड़ेगा?

    ब्रिटेन 50 बरसों तक यूरोपीय संघ का सदस्य रहा है.

  10. ब्रिटेन

    ये एक ऐसा पल है जिसे लेकर कुछ लोग उम्मीदों से भरे हैं और कुछ पछतावे से. कितना तैयार है ब्रिटेन?

    और पढ़ें
    next