चुनाव आयोग

  1. सौतिक बिस्वास

    बीबीसी संवाददाता

    चुनाव

    लोकतंत्र में कई राजनीतिक दलों का होना अच्छा संकेत माना जाता है लेकिन क्या वाकई ऐसा है?

    और पढ़ें
    next
  2. पश्चिम बंगाल और ओडिशा के लिए विधानसभा उपचुनावों की तारीख का एलान

    View more on twitter

    पश्चिम बंगाल की तीन और ओडिशा विधानसभा की एक सीट पर 30 सितंबर को उपचुनाव कराने का एलान कर दिया गया है.

    पश्चिम बंगाल की जिन तीन सीटों पर उपचुनाव होने हैं, उनमें मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की भवानीपुर विधानसभा सीट भी शामिल है. भवानीपुर के अलावा बंगाल के शमशेरगंज और जांगीपुर विधानसभा सीटों पर भी वोट डाले जाने हैं.

    साथ ही ओडिशा की पीपली सीट पर भी इसी दिन मतदान होगा.

    निर्वाचन आयोग ने शनिवार को ये बताया कि तीन अक्टूबर को मतगणना कराई जाएगी. चुनाव आयोग के मुताबिक़ नोमिनेशन फाइल करने की आख़िरी तारीख 13 सितंबर को है और 16 सितंबर तक उम्मीदवार अपना नाम वापस ले सकेंगे.

    ममता बनर्जी नंदीग्राम सीट से भाजपा उम्मीदवार शुभेंदु अधिकारी के हाथों विधानसभा चुनाव हार गई थीं. मुख्यमंत्री पद पर बने रहने के लिए उनका विधानसभा चुनाव जीतना ज़रूरी हो गया है.

  3. मोदी राहुल

    सुप्रीम कोर्ट का ये आदेश भारतीय चुनाव प्रणाली को साफ़ सुथरा बनाने की दिशा में एक अहम क़दम है. पढ़ें पूरी जानकारी.

    और पढ़ें
    next
  4. अनंत प्रकाश

    बीबीसी संवाददाता

    चिराग पासवान और पशुपति पारस

    क्या होता है जब किसी पार्टी में दो गुट पैदा हो जाते हैं. चिराग पासवान, पशुपति कुमार पारस दोनों लोक जनशक्ति पार्टी पर अपना दावा ठोक रहे हैं, जानिए नियम क्या कहते हैं?

    और पढ़ें
    next
  5. अनंत प्रकाश

    बीबीसी संवाददाता

    आईएएस अनूप चंद्र पांडेय

    कल्याण सिंह से लेकर योगी सरकार में मुख्य पदों पर आसीन रहे अनूप चंद्र पांडेय की नियुक्ति पर बवाल क्यों हो रहा है?

    और पढ़ें
    next
  6. दिव्या आर्य और शादाब नज़्मी

    बीबीसी संवाददाता

    पश्चिम बंगाल में चुनावी रैली

    राज्य में प्रचार रद्द करने का ऐलान करनेवाली पार्टियों में भारतीय जनता पार्टी सबसे पीछे थी.

    और पढ़ें
    next
  7. राघवेंद्र राव

    बीबीसी संवाददाता, दिल्ली

    चुनाव

    मद्रास हाइकोर्ट की टिप्पणी के बाद यह चर्चा लगातार चल रही है कि क्या चुनाव आयोग ने अपनी ज़िम्मेदारी निभाई?

    और पढ़ें
    next
  8. पश्चिम बंगाल: चुनाव आयोग की सर्वदलीय बैठक आज, कुछ बड़े फ़ैसलों की उम्मीद

    कोरोना
    Image caption: मतदान केंद्र की तस्वीर (कोलकाता, पश्चिम बंगाल)

    कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच कैसे सुरक्षित चुनाव कराया जाये, इसपर चर्चा के लिए निर्वाचन आयोग ने शुक्रवार को पश्चिम बंगाल में एक सर्वदलीय बैठक बुलाई है.

    उम्मीद की जा रही है कि इस बैठक में कुछ बड़े फ़ैसले लिये जा सकते हैं.

    बताया गया है कि चुनाव आयोग ने सभी राजनीतिक दलों से इस बैठक में अपना एक-एक प्रतिनिधि भेजने को कहा है.

    इस बैठक में पश्चिम बंगाल के बाकी चार चरणों के चुनाव पर चर्चा की जायेगी.

    View more on twitter

    पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने गुरुवार शाम एक ट्वीट करके कोरोना संक्रमण के मद्देनज़र पश्चिम बंगाल में आठ चरणों में विधानसभा चुनाव कराने के निर्णय का एक बार फिर विरोध किया और बाक़ी सभी सीटों पर एक साथ चुनाव कराने की माँग की.

    अपने ट्वीट में ममता बनर्जी ने चुनाव आयोग से आग्रह किया कि कोरोना संक्रमण के तेज़ी से बढ़ते मामलों को ध्यान में रखते हुए बाक़ी बचे चरणों का मतदान एक ही चरण में कराया जाए.

    ममता बनर्जी का कहना है कि एक चरण में बाक़ी मतदान कराने से लोगों को कोरोना संक्रमण की चपेट में आने से बचाया जा सकेगा.

    ग़ौरतलब है कि चुनाव आयोग ने पश्चिम बंगाल की 294 विधानसभा सीटों के लिए आठ चरणों में चुनाव कराने का फ़ैसला किया था.

    कोरोना चुनाव

    चार चरण के चुनाव हो चुके हैं और पाँचवे चरण का चुनाव शनिवार को होने वाला है.

    मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, चुनाव आयोग शुक्रवार को होने वाली सर्वदलीय बैठक में सभी दलों से कोरोना गाइडलाइंस के पालन को लेकर चर्चा करेगा.

    राज्य में चुनाव प्रचार के दौरान सभी दलों की ओर से आयोजित चुनावी रैलियों में भारी भीड़ जुट रही है जिनमें कोरोना गाइडलाइंस का पालन बिल्कुल नहीं किया जा रहा.

    पश्चिम बंगाल में कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे हैं. वहाँ अब तक कोरोना के कुल छह लाख से ज़्यादा मामले सामने आ चुके हैं और कोविड-19 से मरने वालों की संख्या दस हज़ार से ज़्यादा हो गई है.

  9. चुनाव आयोग के फ़ैसले के ख़िलाफ़ ममता देंगी धरना, डेरेक ओ ब्रायन ने बताया लोकतंत्र का काला दिन

    View more on twitter

    ममता बनर्जी पर 24 घंटे के लिए चुनाव प्रचार करने से लगाई गई रोक के फ़ैसले पर प्रतिक्रिया देते हुए तृणमूल कांग्रेस के सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने कहा है कि इलेक्शन कमीशन का मतलब 'एक्सट्रीमली कॉम्प्रोमाइज़्ड' यानी हो गया है.

    उन्होंने कहा कि ये हमारे लोकतंत्र का एक काला दिन है.

    उधर, ममता बनर्जी ने कहा है कि निर्वाचन आयोग के असंवैधानिक और अलोकतांत्रिक फ़ैसले के विरोध में वो कोलकाता की गांधी मूर्ति के पास मंगलवार दोपहर 12 बजे धरने पर बैठेंगी.

    निर्वाचन आयोग ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस की अध्यक्ष ममता बनर्जी पर 24 घंटों के लिए चुनाव प्रचार करने से रोक लगा दी है. आयोग के फैसले के अनुसार उन पर ये प्रतिबंध सोमवार रात 8 बजे से मंगलवार रात आठ बजे तक लागू रहेगा.

    View more on twitter
  10. सुशील चंद्रा बने भारत के नए मुख्य निर्वाचन आयुक्त

    सुशील चंद्रा

    सुशील चंद्रा को भारत का नया मुख्य निर्वाचन आयुक्त नियुक्त किया गया है.

    भारत सरकार के क़ानून मंत्रालय की ओर से जारी किए गए बयान में कहा गया है कि सुशील चंद्रा मंगलवार, 13 अप्रैल को पदभार ग्रहण करेंगे.

    मौजूदा मुख्य निर्वाचन आयुक्त सुनील अरोड़ा का कार्यकाल सोमवार को ख़त्म हो रहा है.

    लोकसभा चुनावों से पहले 14 फरवरी, 2019 को सुशील चंद्रा को निर्वाचन आयुक्त के पद पर नियुक्त किया गया था.

    उनका कार्यकाल 14 मई, 2022 को समाप्त होगा.

    उनके नेतृत्व में निर्वाचन आयोग को गोवा, मणिपुर, उत्तराखंड, पंजाब और उत्तर प्रदेश में चुनाव संचालित कराना है.

    गोवा, मणिपुर, उत्तराखंड और पंजाब विधानसभा का कार्यकाल अगले साल मार्च में समाप्त हो रहा है.

    उत्तर प्रदेश विधानसभा का कार्यकाल अगले साल 14 मई को ख़त्म होगा.