हांगकांग

  1. Video content

    Video caption: चीन को चुनौती देने वाले हांगकांग के 'विद्रोही' अरबपति जिम्मी लाई की कहानी

    चीन की मुख्य भूमि के कई लोग उन्हें 'गद्दार' मानते हैं, जबकि हांगकांग में लोग उन्हें नायक के रूप में देखते हैं.

  2. जिम्मी लाई

    हांगकांग के अरबपति कारोबारी वहां के लोकतंत्र समर्थक आंदोलन की मुख्य आवाज़ों में शामिल रहे हैं. पिछले साल के इस आंदोलन में शामिल होने के लिए उन्हें शुक्रवार को 14 महीने की जेल की सजा सुनाई गई है.

    और पढ़ें
    next
  3. एंड्रीयाज़ इल्मर

    बीबीसी न्यूज़

    Hong Kong policeman

    हांगकांग में चीन का प्रभाव इतना ज़्यादा बढ़ गया है कि बहुत से लोग ये तय नहीं कर पा रहे हैं कि वो विरोध करें या हक़ीक़त को स्वीकार कर लें.

    और पढ़ें
    next
  4. हांग कांग

    चीन ने एक ऐसी योजना बनाई है जिससे यह सुनिश्चित किया जा सके कि हांग कांग पर केवल 'देशभक्तों' की ही सत्ता रहे.

    और पढ़ें
    next
  5. हॉन्ग-कॉन्ग के चुनाव को अब नियंत्रित करेगा चीन

    चीन

    चीन की संसद ने एक विवादास्पद प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है, जिसके तहत हॉन्ग-कॉन्ग की चुनावी प्रणाली पर चीन के क़ाबू पाने का रास्ता साफ़ हो जाएगा और इस तरह चीन हॉन्गकॉन्ग पर अपने नियंत्रण को और बढ़ा सकेगा.

    गुरुवार को नेशनल पीपुल्स कांग्रेस में 'देशभक्त शासित हॉन्ग-कॉन्ग पर' प्रस्ताव पारित किया गया.

    इस प्रस्ताव के तहत लोकतांत्रिक प्रतिनिधित्व कम हो जाएगा और बीजिंग समर्थक पैनल को 'देशभक्त' उम्मीदवारों को चुनने की इजाज़त होगी.

    इस प्रस्ताव के संसद से पास हो जाने की उम्मीद जताई भी जा रही थी. इसके समर्थन में 2895 वोटों पड़े और विरोध में एक भी वोट नहीं पड़ा और ये प्रस्ताव एकमत के साथ पारित किया गया .

    अब क़ानून का मसौदा तैयार किया जाएगा और अगले कुछ महीनों के भीतर हॉन्ग-कॉन्ग में इसे लागू किया जा सकता है.

    पिछले साल के एनपीसी सत्र में एक विवादास्पद राष्ट्रीय सुरक्षा क़ानून पारित किया गया था, जो प्रभावी रूप से हॉन्ग-कॉन्ग की स्वायत्तता को कम करता है और प्रदर्शनकारियों को सज़ा देने की राह आसान बनाता है.

    इस क़ानून के पिछले साल जून में लागू होने के बाद से हॉन्ग-कॉन्ग में दर्जनों लोगों को गिरफ़्तार किया जा चुका है.

  6. हांगकांग

    चीन की नीतियां तय करने वाली मुख्य संस्था ने ऐसे उपाय पारित करने की योजना बनाई है जिनसे यह सुनिश्चित किया जा सके कि हांगकांग पर केवल "देशभक्तों" की ही सत्ता रहे.

    और पढ़ें
    next
  7. हॉन्ग-कॉन्ग के लोकतंत्र पर चीन ने कसा 'शिकंजा'

    नेशनल पीपल्स कांग्रेस को संबोधित करते हुए चीन के प्रीमियर ली केचियांग ने कहा कि हॉन्ग-कॉन्ग में कोई दख़लंदाज़ी न करे.

    उन्होंने हॉन्ग-कॉन्ग की चुनाव प्रक्रिया में बड़े पैमाने पर बदलाव करने का भी ऐलान किया और कहा कि "यहाँ की चुनाव व्यवस्था में व्यापक बदलाव किये जाएँगे ताकि हॉन्ग-कॉन्ग का भार 'देशभक्त' लोगों को दिया जा सके."

    Video content

    Video caption: हॉन्ग कॉन्ग के लोकतंत्र पर चीन ने कसा 'शिकंजा'
  8. Video content

    Video caption: हॉन्ग कॉन्ग के लोकतंत्र पर चीन ने कसा 'शिकंजा'

    चीन के प्रधानमंत्री ने संसद की सालाना बैठक में दुनिया को हॉन्ग कॉन्ग के मामले में दख़ल न देने की चेतावनी दी है.

  9. चीन

    चीन ने अपनी संसद की सालाना बैठक में हांगकांग की चुनाव व्यवस्था में व्यापक बदलाव करने की घोषणा की है.

    और पढ़ें
    next
  10. लोकतंत्र समर्थक कार्यकर्ता बेनी ताई यू-तिंग ने मीडिया से कहा है कि वो हॉन्ग कॉन्ग पुलिस स्टेशन जाने वाले हैं.

    हॉन्गकॉन्ग में विवादित चीनी क़ानून के तहत 47 लोगों के ख़िलाफ़ केस दर्ज किया गया है.

    और पढ़ें
    next